• संवाददाता

केंद्र सरकार ने 27 फरवरी से इंडियन एयरस्पेस में लगाए गए सभी अस्थाई प्रतिबंधों को खत्म कर दिया है


नई दिल्ली मोदी कैबिनेट 2.0 द्वारा कार्यभार संभालने के बाद अब केंद्र सरकार ने 27 फरवरी से इंडियन एयरस्पेस में लगाए गए सभी अस्थाई प्रतिबंधों को खत्म कर दिया है। उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि यह भारत की तरफ से पाकिस्तान के एक जेस्चर की शुरुआत है ताकि पाकिस्तान भी अपने एयरस्पेस को पहले की तरह उड़ानों के लिए खोल सके। पाक एयरस्पेस के खुलने से दक्षिण एशिया समेत दिल्ली और पश्चिम के लिए उड़ानों की दूरी भी कम होगी। बता दें कि 27 फरवरी से ही इन सेक्टरों की फ्लाइट्स लंबा रूट तय कर रही हैं और इसके चलते 3 घंटे तक का फ्लाइंग टाइम ज्यादा लग रहा है। एक सूत्र ने बताया, 'यह आमतौर पर भारत की तरफ से एक संकेत है कि हम प्रतिबंध हटाने के इच्छुक हैं और पाकिस्तान को भी अब ऐसा ही कदम उठाना चाहिए। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत के साथ सरकार द्वारा लिए गए महत्वपूर्ण फैसलों में से एक है। विदेशी एयरलाइंस अब यूएन की एविएशन विंग ICAO और IATA का ग्लोबल एयरलाइन फोरम से संपर्क कर सकते हैं ताकि पाकिस्तान पर प्रतिबंध हटाने के लिए दबाव बनाया जा सके।' अगर आईएएफ के ट्वीट को देखें तो इसका मतलब है कि अब पाकिस्तान इंटरनैशनल एयरलाइन की लाहौर से काठमांडू के लिए उड़ने वाली उड़ान इंडियन एयरस्पेस से गुजर सकती है। अधिकारी ने कहा, 'तकनीकी तौर पर ऐसा है। लेकिन यह आपसी सहमति का मामला है। हमने संकेत दे दिए हैं कि भारत को इन फ्लाइट्स के गुजरने से कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन पाकिस्तान को भी अब भारत सहित दूसरे देशों की एयरलाइंस के लिए अपना एयरस्पेस खोलना होगा।'