• संवाददाता

ओमप्रकाश राजभर ने पार कर दी थी हद, इसलिए पद से किया गया बर्खास्त: महेंद्रनाथ पांडेय


वाराणसी यूपी सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को बर्खास्त किए जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने सरकार के इस फैसले पर प्रतिक्रिया दी है। यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय ने सोमवार को राजभर की बर्खास्तगी के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा कि ओमप्रकाश राजभर ने चुनाव के दौरान हद पार कर दी थी, इसी कारण सरकार ने उन्हें पद से बर्खास्त किया। राज्यपाल द्वारा राजभर की बर्खास्तगी की अनुशंसा मंजूर करने के बाद पांडेय ने कहा, 'बीजेपी ने राजभर समाज का हमेशा आदर किया है। बीजेपी बड़े भाई की भूमिका के कारण उन्हें बर्दाश्त कर रही थी और चुनाव के दौरान उन्होंने सारी हद पार कर दी थी। हम उन्हें सुधरने का मौका दे रहे थे। अब राजभर समाज के कल्याण के लिए उनका विभाग पिछड़ा वर्ग कल्याण और समाज कल्याण विभाग अनिल राजभर को दे दिया गया है।' महेंद्रनाथ ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, 'ओमप्रकाश राजभर ने हर कदम पर गठबंधन धर्म की मर्यादा का न केवल उल्लंघन किया, बल्कि उसे तार-तार भी किया। इसलिए पार्टी और सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ जी दोनों को ही सख्त निर्णय लेने पर विवश होना पड़ा है।' राजभर को लोकसभा चुनाव बाद हटाए जाने के सवाल पर महेंद्रनाथ ने कहा, 'यह निर्णय तब लिया गया, जब दो दिन पूर्व उन्होंने मऊ में गाली-गलौच की थी।' बता दें कि सोमवार को ही सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को पद से बर्खास्त कर दिया गया था। राज्यपाल राम नाईक ने सीएम योगी आदित्यनाथ की राजभर को तत्काल प्रभाव से पदमुक्त करने की सिफारिश मंजूर की थी। इससे पहले ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के अन्य सदस्य जो विभिन्न निगमों और परिषदों में अध्यक्ष व सदस्य थे, उन सभी को भी तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया था।