• संवाददाता

डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि हार का अहसास होने की वजह से अखिलेश ईवीएम का दुखड़ा रो र


लखनऊ लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सवाल उठाए हैं। अब उत्तर प्रदेश के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश पर पलटवार किया है। मौर्य ने कहा है कि हार का अहसास होने की वजह से अखिलेश ईवीएम का दुखड़ा रो रहे हैं। मंगलवार को मौर्य ने कहा, 'अखिलेशजी को अपनी हार का अहसास हो गया है इसलिए उन्होंने ईवीएम पर सवाल खड़े करना शुरू कर दिया है ।' उन्होंने कहा, 'बीजेपी को मिल रहे अपार जन समर्थन और एसपी-बीएसपी की बौखलाहट से निश्चित हो गया है कि सभी दस सीटों पर हमारी पार्टी जीतेगी। इसीलिए हमारे विरोधी ने इस बार फिर से ईवीएम का दुखड़ा रोना शुरू कर दिया है।' लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 14 राज्यों में 117 सीटों पर वोट डाले गए। इसमें उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, ओडिशा और असम में मतदान हुआ। तीसरे चरण में उत्तर प्रदेश की कुल 10 लोकसभा सीटें शामिल हैं। इस चरण में एसपी संस्थापक मुलायम सिंह यादव के साथ-साथ आजम खान, जया प्रदा और वरुण गांधी जैसे दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर है। वहीं गुजरात की गांधीनगर सीट से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और केरल की वायनाड सीट से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी चुनावी मैदान में हैं। उल्लेखनीय है कि अखिलेश ने चुनाव आयोग को टैग करते हुए सुबह ट्वीट किया, 'पूरे भारत में ईवीएम इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन या तो खराब हैं या फिर बीजेपी के लिए वोट कर रही हैं। जिलाधिकारी कहते हैं कि निर्वाचन अधिकारी ईवीएम परिचालन की दृष्टि से प्रशिक्षित नहीं हैं। 350 से अधिक ईवीएम बदली जा रही हैं ।' एसपी प्रमुख ने कहा कि यह चुनावी प्रक्रिया के लिहाज से आपराधिक लापरवाही है, वह चुनावी प्रक्रिया, जिस पर 50 हजार करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं । उत्तर प्रदेश में दस लोकसभा सीटों के लिए तीसरे चरण के तहत आज मतदान हो रहा है।