• संवाददाता

पीएम नरेंद्र मोदी को यूएई के सर्वोच्च सम्मान में से एक 'जायेद मेडल' से नवाजा जाएगा


नई दिल्ली यूएई पीएम नरेंद्र मोदी को वहां के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'जायद मेडल' नवाजेगा। यूएई के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान ने खुद ट्वीट कर इसका ऐलान किया है। यूएई के क्राउन प्रिंस ने कहा कि भारत के साथ हमारे एतिहासिक और व्यापक रणनीतिक संबंध हैं। उन्होंने कहा, 'इन संबंधों को और मजबूत करने में मेरे मित्र और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहम भूमिका निभाई है।' वहीं, पीएम मोदी ने नाहयान का आभार जताते हुए कहा है कि वह इस सम्मान को विनम्रता के साथ स्वीकार करते हैं। नाहयान ने ट्वीट किया, 'दोनों देशों के संबंधों को मजबूत बनाने के उनके प्रयासों की सराहना करते हुए यूएई के राष्ट्रपति ने उन्हें जायेद मेडल से सम्मानित करने का फैसला लिया है।' बता दें कि यूएई द्वारा यह सम्मान राजाओं, राष्ट्रपतियों और राष्ट्राध्यक्षों को दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है। पीएम मोदी ने इस सम्मान को स्वीकार करते हुए यूएई का आभार जताया। उन्होंने ट्वीट किया, 'मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान का आभार जताता हूं। मैं इस सम्मान को विनम्रता के साथ स्वीकार करता हूं। आपके दूरदर्शी नेतृत्व के अंदर हमारे रणनीतिक संबंध ने नई ऊंचाइयों को छुआ है। यह दोस्ती हमारे लोगों और ग्रह की शांति और उन्नति में योगदान दे रहा है।' यूएई ने पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य निसार अहमद तांत्रे को भारत को सौंप दिया। जैश का यह आतंकी जम्मू-कश्मीर के लेथपोरा स्थित सीआरपीएफ कैंप पर दिसंबर 2017 में हमले का मुख्य साजिशकर्ता है। 30-31 दिसंबर, 2017 की रात हुए इस आतंकी हमले में पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। तब तीनों हमलावरों को मार गिराया गया था। बता दें कि पिछले कुछ समय से भारत और यूएई के संबंधों में बेहद गर्माहट आई है। यूएई भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने वाले कई आतंकियों को भारत को सौंप चुका है। पिछले कुछ दिन पहले ही यूएई ने अगुस्टा वेस्टलैंड डील में रिश्वतखोरी के आरोपी क्रिश्चियन मिशेल को भी भारत को सौंपा था। इसके इस मामले में एक अन्य आरोपी को दीपक तलवार को भी भारत को सौंपा था। यूएई सीरियाई आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के समर्थकों, इंडियन मुजाहिदीन के सदस्य अब्दुल वाहिद सिद्दिबापा और 1993 मुंबई ब्लास्ट के आरोपी फारूख टकला जैसे आतंकवादियों को भारत सरकार को सौंप चुका है।