• संवाददाता

दांत सड़ने पर इंजेक्शन दिया जाता है ताकि बैक्टीरिया निकल जाए:- तेजस्वी यादव


पटना टिकट बंटवारे के बाद राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) मुखिया लालू प्रसाद यादव के परिवार में मचे घमासान के बीच तेज प्रताप यादव ने कहा है कि दोनों भाइयों के बीच कोई अनबन नहीं है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव के आसपास चापलूस (बैक्टीरिया) ज्यादा हैं। वह बस तेजस्वी से कहना चाहते हैं कि शिवहर और जहानाबाद की बातों को समझें। बता दें कि इन दोनों सीटों पर तेज प्रताप यादव अपने करीबियों को टिकट देना चाहते थे, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी। इसी के बाद तेज प्रताप बागी तेवर अपनाए हुए हैं। नई पार्टी 'लालू-राबड़ी मोर्चा' का ऐलान को लेकर पूछे गए सवाल पर तेज प्रताप ने टीवी न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, 'दांत सड़ने पर इंजेक्शन दिया जाता है, ताकि बैक्टीरिया निकल जाए। तेजस्वी के इर्द-गिर्द लगे हुए हैं जो चापलूस हैं, वो बैक्टीरिया हैं।' सारण सीट से तेज प्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय के चुनाव लड़ने पर उन्होंने कहा, 'मैंने अपनी मां (राबड़ी देवी) से हाथ जोड़कर कहा है कि वह इस सीट से खुद चुनाव लड़ें। अगर वह नहीं लड़ेंगी तो मैं चुनाव लड़ूंगा।' लालू के बड़े बेटे ने कहा, 'मैं बागी की भूमिका नहीं, कृष्ण की भूमिका में हूं। दोनों भाई कृष्ण-अर्जुन की तरह हैं, लेकिन पार्टी के अंदर ही लोग आरजेडी को तोड़ रहे हैं। ऐसे लोग आरएसएस-बीजेपी से आए हैं।' उन्होंने ऐसे उम्मीदवार के लिए आवाज उठाई है जिसने अपने परिवार को छोड़कर पार्टी के लिए दिन-रात मेहनत की। हम चाहते हैं कि नौजवान को इस सीट से टिकट मिले। बता दें कि तेज प्रताप यादव आरजेडी की ओर से सारण लोकसभा सीट पर चंद्रिका राय को चुनाव मैदान में उतारने को लेकर नाराज चल रहे हैं। चंद्रिका राय तेज प्रताप यादव के ससुर हैं। तेज प्रताप यादव ने यह भी कहा, 'सारण लोकसभा सीट लालूजी की पुश्तैनी सीट रही है। हम चाहते हैं कि वहां से हमारी माताजी यानी राबड़ी देवी चुनावी मैदान में उतरें। यदि वह चुनाव नहीं लड़ती हैं तो मैं उस सीट से चुनाव लड़ूंगा और जीतूंगा भी क्योंकि यहां की जनता का आशीर्वाद मेरे साथ है।' तेज प्रताप ने कहा था, 'हमको दो सीट चाहिए- शिवहर और जहानाबाद। जहानाबाद से जो नाम उन्होंने (RJD) घोषित किया है वह तीन बार से चुनाव हारते चले आ रहे हैं। जनता आक्रोशित है, पूरी जनता इनको नहीं चाहती है, जनता नौजवान को चाहती है। हमने इन लोगों के लिए मोर्चा खोला है। राष्ट्रीय जनता दल में जिस तरह से लोग ऊल-जुलूल बात करते हैं, तेजस्वी के पैर के नीचे, सीट के नीचे, डेरा बनाकर भाई-भाई और परिवार को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है, हमारी लड़ाई में दुश्मन फायदा उठाएगा।' आरजेडी बनाम आपके (तेज प्रताप) मुकाबले में बीजेपी को फायदा होगा? इस पर लालू प्रसाद के बड़े बेटे ने कहा, 'बीजेपी को क्या फायदा होगा, वह तो वैसे ही खत्म हो रही है। नामांकन करने जब जाएंगे, तब बाकी की सीटें बताएंगे। रही बात इस्तीफे की तो उसमें वक्त लगता है क्या।' बता दें कि हाल ही में तेज प्रताप यादव ने अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट पर लिखा था, 'छात्र राष्ट्रीय जनता दल के संरक्षक के पद से मैं इस्तीफा दे रहा हूं। नादान हैं वे लोग जो मुझे नादान समझते हैं, कौन कितना पानी में है सबकी खबर है मुझे।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.