• संवाददाता

ईवीएम पर उठे विवाद को लेकर चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस को लिखा पत्र


नई दिल्ली ईवीएम पर उठे विवाद को बढ़ता देख अब चुनाव आयोग (ईसीआई) ने दिल्ली पुलिस को पत्र लिखा है। आयोग ने अपने पत्र में इस पूरे मामले में एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच करने की मांग की है। ईसीआई ने कहा कि लंदन में हुए कार्यक्रम में सैयद शुजा द्वारा किए गए दावों की जांच की जाए। शुजा ने दावा किया था कि भारत में इस्तेमाल ईवीएम हैक किए जाए सकते हैं। ईसीआई ने अपने पत्र में कहा कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के जरिए आयोग के संज्ञान में यह बात आई है कि सैयद शुजा ने दावा किया है कि वह ईवीएम डिजाइन टीम के सदस्य थे और वह भारत में इस्तेमाल हो रही ईवीएम को हैक कर सकते हैं। ईसीआई ने दिल्ली पुलिस से पूरे मामले की जांच करने को कहा है। साइबर एक्सपर्ट की तरफ से किए गए दावों के बाद बीजेपी और कांग्रेस में भी जुबानी जंग छिड़ गई है। केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि राहुल चुनाव हारने के डर से यह खुराफात करवा रहे हैं। उन्होंने कहा, ' 2019 के चुनाव में कांग्रेस हारने का बहाना अभी से ढूंढ रही है। राहुल जी होमवर्क नहीं करते हैं और उनकी पूरी टीम भी होमवर्क नहीं करती है यह भी अब पता चल गया है। राहुल चुनाव हारने के लिए क्या-क्या खुराफात करेंगे।' बीजेपी ने कहा कि हैकथॉन में बताया गया कि शुजा बड़े हैकर हैं। अचानक वह कहां से प्रकट हो गए। कहा गया था कि ईवीएम को हैक करते हुए दिखाया जाएगा लेकिन वह अमेरिका से प्रकट होते हैं। चेहरा ढंके रहते हैं। उन्होंने वहां केवल बकवास किया। उन्होंने कहा कि शुजा ने गोपीनाथ मुंडे की मौत पर सवाल उठाए। प्रसाद ने कहा, 'एम्स के डॉक्टर ने मुंडे का पोस्टमॉर्टम किया था और बताया था कि उनकी गर्दन में चोट लगने से मौत हुई। शुजा ने केवल बकवास किया।' उन्होंने कहा कि शुजा ने अपने दावे में कोई सबूत पेश नहीं किए। उसने बिना किसी सबूत के ही आरोप लगाए। बता दें कि एक अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट का दावा है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक किया जा सकता है। लंदन में हुई हैकथॉन में इस साइबर एक्सपर्ट ने दावा किया है कि बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे की 2014 में हत्या की गई थी। एक्सपर्ट सैयद शुजा का कहना है कि मुंडे इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक करने के बारे में जानकारी रखते थे। भारत में इस्तेमाल की जाने वाली ईवीएम को डिजाइन करने वाले एक्सपर्ट ने यह भी दावा किया है कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और गुजरात में भी धांधली हुई थी। यहां तक कि शुजा का दावा है कि 2014 के आम चुनाव में भी ईवीएम में गड़बड़ी की गई थी। इस हैकथॉन में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल भी मौजूद थे। वहीं इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया ने कहा कि भारत में इस्तेमाल की जाने वाली मशीन पूरी तरह सेफ हैं।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.