• संवाददाता

सबरीमाला मंदिर में प्रवेश को लेकर विवादित फेसबुक पोस्ट मामले में सामाजिक कार्यकर्ता रेहाना फातिमा गि


पथानामथिट्टा सबरीमाला मंदिर में प्रवेश को लेकर चर्चा में आई सामाजिक कार्यकर्ता रेहाना फातिमा को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। रेहाना पर आरोप है कि उन्होंने फेसबुक पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली पोस्ट डालीं। इस सिलसिले में पुलिस ने रेहाना के खिलाफ केस दर्ज किया था जिसके बाद उन्होंने अग्रिम जमानत के लिए हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी लेकिन कोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दी थी। पथानामथिट्टा पुलिस ने राधाकृष्ण मेनन की शिकायत के आधार पर इस कार्यकर्ता के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। मेनन ने आरोप लगाया था कि रेहाना ने फेसबुक पर कुछ ऐसी पोस्ट डालीं जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। उनके खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 295ए (धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाना) के तहत मामला दर्ज किया था। गिरफ्तारी से बचने के लिए उन्होंने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत की मांग वाली याचिका दायर की थी। इस मामले में जमानत याचिका खारिज करते हुए अदालत ने निर्देश दिया था कि पुलिस उचित कदम उठा सकती है। नैतिकता की तथाकथित ठेकेदारी के खिलाफ 2014 में कोच्चि में ‘किस ऑफ लव’ प्रदर्शन में भाग लेने वालीं मॉडल और कार्यकर्ता रेहाना उन दो महिलाओं में शामिल थीं जो 19 अक्टूबर को पर्वत की चोटी पर पहुंचे थे लेकिन उन्हें अयप्पा भक्तों द्वारा विरोध प्रदर्शन के बाद गर्भ गृह पहुंचने से पहले ही वापस लौटना पड़ा था।