• संवाददाता

बुखारी बोले- जल्द अच्छी खबर: सरकार बनाने के लिए कांग्रेस-PDP और NC का 'मास्टर प्लान'


श्रीनगर जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। कांग्रेस, नैशनल कॉन्फ्रेंस और पीपल्स डेमोक्रैटिक पार्टी (पीडीपी) मिलकर सरकार बनाने के लिए कवायद में जुटे हैं। इस बात की पुष्टि अब पीडीपी नेता अलताफ बुखारी ने भी कर दी है। बता दें कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के समर्थन वापस लेने से पीडीपी-बीजेपी की गठबंधन सरकार गिर गई थी। पीडीपी नेता अलताफ बुखारी ने कहा, 'मेरे नेतृत्व ने हमें इस बात की पुष्टि की है कि तीन पार्टियां (कांग्रेस, पीडीपी और नैशनल कॉन्फ्रेंस) राजनीतिक और कानूनी रूप से राज्य की विशेष पहचान सुरक्षित रखने के लिए गठबंधन पर राजी हुए हैं। जल्द ही आपको एक अच्छी खबर मिलेगी।' बुखारी ने यह भी कहा, 'लोकतंत्र में सभी को यह संभावनाएं तलाशने का हक है।' उन्होंने कहा कि आगामी दो-दिनों में आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी। सरकार गिरने के बाद से राज्य में राज्यपाल शासन लागू है। 19 दिसंबर को राज्यपाल शासन के छह महीने पूरे हो जाएंगे और नियमों के मुताबिक, इसे दोबारा बढ़ाया नहीं जा सकता है। राज्यपाल शासन के बाद राष्ट्रपति शासन लगाया जा सकता है लेकिन उसके लिए विधानसभा को भंग किया जाना जरूरी है। राज्यपाल सत्यपाल मलिक के मुताबिक, ऐसा नहीं किया जाएगा। सज्जाद लोन और बीजेपी के साथ आने की थी संभावना राजनीतिक गलियारों में यह भी खबरें थीं कि दो विधायकों वाली सज्जाद लोन की पीपल्स कॉन्फ्रेंस के नेतृत्व में सरकार बनाई जाए। यह भी कहा जा रहा था कि बीजेपी सज्जाद लोन को समर्थन दे सकती है। हालांकि, ये दो पार्टियां मिलकर भी बहुमत के आंकड़े (44 विधायक) से काफी दूर थीं।