• संवाददाता,मुंबई

सेंसेक्स टुडे: सेंसेक्स 806 जबकि निफ्टी 259 अंक टूटा,बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ बाजार


मुंबई शेयर बाजार में गुरुवार को बड़ी गिरावट आई। सेंसेक्स 806.47 अंक गोता लगाकर 35,169 और निफ्टी 259 अंक टूटकर 10,599.25 पर बंद हुआ। बाजार में कोहराम के असर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि सेंसेक्स के 31 शेयरों में महज 6 शेयर ही हरे निशान में बंद हो पाए, बाकी 25 शेयरों में कमजोरी रही। वहीं, निफ्टी पर भी 39 शेयरों में गिरावट रही जबकि महज 11 शेयर तेजी के साथ बंद हुए।

ऑइल मार्केटिंग कंपनियों को झटका दरअसल, वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से डीजल-पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी में 2.5 रुपये प्रति लीटर की दर से कमी का ऐलान करते ही ऑइल मार्केटिंग कंपनियों के निवेशकों में भगदड़ मच गई। निफ्टी पर हिंदुस्तान पेट्रोलियम (22.44%), बीपीसीएल (18.88%), इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन यानी आईओसी (18.24%), ओएनजीसी (9.98%), रिलायंस (8.02%), आइशर मोटर्स ((7.47%), गेल (6.52%), हीरो मोटोकॉर्प (5.51%), डॉ. रेड्डी (5%) और टीसीएस (4.62%) तक टूट गए।

वहीं, सेंसेक्स पर सबसे ज्यादा टूटने वाले शेयरों में रिलायंस (7.03%), हीरो मोटोकॉर्प (5.45%), टीसीएस (4.54%), अडानी पोर्ट्स (4.17%), ओएनजीसी (3.74%), सन फार्मा (3.70%), एचडीएफसी बैंक (3.46%), बजाज ऑटो (3.04%) और इंडसइंड बैंक (3.03%) शामिल रहे।

कारोबार शुरू होते ही टूटे सेंसेक्स-निफ्टी कारोबार की शुरुआत के कुछ मिनटों के भीतर ही सेंसेक्स 600 से ज्यादा लुढ़क गया तो निफ्टी में भी 150 अंकों की गिरावट आई। सेंसेक्स 35,521.73 और निफ्टी 10754 पर खुला था। दोपहर 12 बजे तो सेंसेक्स 800 अंकों से भी ज्यादा लुढ़क गया। कारोबार के दौरान निफ्टी भी करीब 250 अंक तक टूट गया। सेंसेक्स बुधवार को 550 अंक टूटकर बंद हुआ था।

रुपये के नए सर्वकालिक निचले स्तर पर आने, कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि और विदेशी निवेशकों की बिकवाली की वजह से बाजार में उथल पुथल है। आरबीआई की मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दरों के बढ़ने की आशंका को भी गिरावट के लिए जिम्मेदार बताया गया है। बाजार विश्लेषकों का कहना है कि शुक्रवार को रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा के नतीजे आने के बाद बाजारों को नई दिशा मिलेगी। भारतीय रिजर्व बैंक की द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक बुधवार को शुरू हुई। इससे निवेशकों ने सतर्कता का रुख अपनाया। माना जा रहा है कि मौद्रिक नीति समिति ब्याज दरों में चौथाई प्रतिशत की और वृद्धि कर सकती है। अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपया अपने सर्वकालिक निचले स्तर 73.70 प्रति डॉलर पर पहुंच गया। इस बीच, ब्रेंट क्रूड 85 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंच गया है।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.