• रुचिर मेहता , कानपुर

किंजल ने चलाया काली कोठरी में स्वच्छता अभियान


कानपुर कानपुर विकास प्राधिकरण में करोड़ो के घोटालो को लेकर जांच उपरान्त केडीए वीसी किंजल सिंह ने अमीन अंकुर पालएरमेश प्रजापतिएसोहन लालएरामलालएसंतोष आदि निलंबितएपूर्व के के पांडेय, अजित कुमार सिंह के खिलाफ आरओ बना कर शासन भेजाए तहसीलदार प्रदीप रमनए बीएल किशोर गुप्ता के खिलाफ राजस्व विभाग कार्यवाही को पत्र भेजा गयाएसविदा पर तैनात मन्ना सिंह तहसीलदार को तत्काल हटाया गया गोरतलब है की प्राधिकरण बनते ही लेखपाल और तहसीलदारों की लम्बी फ़ौज बैठाई गयी जिका भुक्तान प्राधिकरण करता आया है अभियातरण विभाग आमीन और तहसीलदार के त्रिसुक मोर्चे ने अधिकारियो की सह पाकर कई ज़मीनों में हेरफेर किया सरकारे आती जाती रही लेकिन ये अंगद की तरह पैर जामा कर अपनी मनमानी करते रहे कुछ घोटाले पूर्व मे पकड़े गए वर्तमान मे कोर्ट के आदेश पर हरिमोहन गुप्ता की अराजी 1098 ग्राम बैरी अकबरपुर का मामला केडीए वीसी किंजल सिंह के सामने पहुचा तो उन्होने कोर्ट के आदेश पर जां्रच समीति बैठाई स्थल निरीक्षण के उपरान्त वीसी केडीए ने कठोर फैसला लिया सूत्रो की माने तो 12 लोगो के खिलाफ कार्यवाही की गई साथ ही शासन से 12 नये लेखपाल / अमीन की भर्ती के लिए शासन को पत्र भी भेज दिया। वीसी की कठोर कार्यवाही से कालीकोठरी और सफेद हाथी के रूप मे चर्चित प्रधिकरण मे हडकम्प मचा जिसकी गूंज हर प्रधिकरण मे पहुच गई गौरतलब है कि अधिक्षण अभियन्ता के. के पाण्डेय पूर्व मे भी रिटार्यड होने के बावजूद लखनऊ विकास प्रधिकरण मे भी सीतापुर रोड़ के घोटाले की सीबीआई जांच झेल रहे है। सहायक अभियन्ता अजीत कुमार सिंह गजियाबाद विकास प्रधिकरण मे कार्यरत है। तहसीलदार बीएल पाल कानपुर मे प्रशासनिक सेवा मे कार्यरत है वही किशोर गुप्ता पीसीएस होकर अन्यनत काम कर रहे है।