• संवाददाता

ट्रेड वॉर पर बोला चीन, 'गले पर चाकू' के साथ बातचीत मुमकिन नहीं


बीजिंग अमेरिका और चीन के बीच चल रहे ट्रेड वॉर के जल्द खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं। इसपर चीन के एक मंत्री का ताजा बयान इसी तरफ इशारा कर रहा है। दरअसल, चीन के एक मंत्री ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध को समाप्त करने के लिए उसके साथ बातचीत करना मुश्किल है। मंत्री ने कहा कि वॉशिंगटन द्वारा टैरिफ लगाना ऐसा है जैसे 'गले पर चाकू।' उन्होंने यह बात अमेरिका द्वारा चीनी उत्पादों पर 200 अरब डॉलर का टैरिफ लगाने के बाद कही। न्यूज एजेंसी एफे की खबर के मुताबिक, बीजिंग और वॉशिंगटन द्वारा एक दूसरे पर अब तक के सबसे अधिक शुल्क लगा देने के एक दिन बाद चीन के वाणिज्य उपमंत्री वांग शौवेन ने मीडिया से यह टिप्पणी की। शुल्क लगाने से व्यापार युद्ध और तेज हो गया है। वांग ने दावा किया कि अमेरिकी सरकार ने चीन को लेकर अपनी समझ का त्याग कर दिया है। वांग ने कहा कि 60 अरब डॉलर का चीनी शुल्क कुछ नहीं बस जवाब है क्योंकि बीजिंग के पास कोई रास्ता नहीं बचा है। यह शुल्क तरल प्राकृतिक गैस जैसे कुछ अमेरिकी क्षेत्रों के लिए हानिकारक होगा। अमेरिका ने व्यापार युद्ध के तहत हाल ही में चीनी आयात पर 200 अरब डॉलर का शुल्क लगा दिया है। यह व्यापार युद्ध जुलाई में शुरू हुआ था। बता दें कि चीन और अमेरिका का ट्रेड वॉर कई और चीजों पर भी असर डाल रहा है। चीन ने अब अमेरिका के साथ होने वाले सैन्य अभ्यास को रद्द कर दिया है। दोनों देशों के सीनियर आर्मी अफसरों के बीच बातचीत होनी थी, लेकिन उसे भी रद्द करवा दिया गया है। रक्षा सौदे पर भी टकराव चीन द्वारा रूस के साथ फाइटर जेट और मिसाइल सिस्टम खरीदने की डील से भी अमेरिका आग बबुला है। हालांकि, चीन इसपर साफ कर चुका है कि दो संप्रभु राष्ट्रों के बीच होने वाले इस फैसले पर ऐतराज की कोई वजह नहीं होनी चाहिए।