• संवाददाता

राज्यपाल राम नाईक बोले- आधुनिक भारत के सच्चे विश्वकर्मा हैं पीएम मोदी


सुलतानपुर एक कॉलेज के उद्घाटन के मौके पर बतौर मुख्य अतिथि सुलतानपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा, 'अटलजी के नक्शेकदम पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चल रहे हैं। मैं उनके जन्मदिन पर उन्हें शुभकामनाएं देता हूं। वह सच्चे तौर पर आधुनिक भारत के विश्वकर्मा हैं।' पीएम मोदी की तारीफ में उन्होंने कहा कि जन्मदिन मनाने लोग अपने घर जाते हैं, अपनी मां का आशीर्वाद लेते हैं लेकिन पीएम उनका आशीर्वाद लेने वाराणसी आ रहे हैं, जिन्होंने उन्हें इस मुकाम तक पहुंचाया है। यूपी गवर्नर राम नाईक सोमवार को सुबह 10 बजकर 25 मिनट पर सुलतानपुर जिले के दोस्तपुर पहुंचे। दोस्तपुर में एक विद्यालय के लोकार्पण समारोह में प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा, 'इस कस्बे का नाम दोस्तपुर है। यहां आने की काफी दिनों से इच्छा थी। आज देश के पीएम वाराणसी में आने वाले है। उनके स्वागत में मुझे जाना चाहिए था, लेकिन वहां न जाकर उनसे समय लेकर आया हूं। तीसरी बार यहां आने का वादा पीएम मोदी के कारण पूरा हो सका। मेरे यहां आने का श्रेय मोदीजी को जाता है।' राम नाईक ने कहा कि यूपी में गंगा जमुनी तहजीब ज्यादा है और उसमें भी सुलतानपुर और दोस्तपुर में यह और भी अधिक है।

'इंटरनेट पर चैटिंग नहीं ज्ञानवर्धन करें लड़कियां' प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि 21वीं सदी महिलाओं की है। आज हर क्षेत्र में लड़कियां अपना लोहा मनवा रही हैं। उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि सभी अपनी लड़कियों को पढ़ाएं। इंटरनेट पर चैटिंग छोड़ लड़कियों को ज्ञानवर्धन करना चाहिए। प्रदेश सरकार बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है। एमए पास करने के बाद भी चिट्ठी न लिख सकें, ऐसा नहीं होना चाहिए। कैबिनेट मंत्री ने दोस्तपुर मझुई नदी पर पुल और कस्बे के लिए बाईपास, बिजेथुआ और बेलवाई पर्यटन को बढ़ावा का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि सुलतानपुर में पर्यटन की काफी संभावनाएं हैं, जिन्हें तराशने की जरूरत है।

आप नेता संजय सिंह ने योगी की योजनाओं पर उठाए सवाल कार्यक्रम में पहुंचे आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि प्रदेश का युवा सड़कों पर है। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक हो रहे हैं और खुद की कमान सही करने के बजाय सीएम योगी कहते हैं कि यहां के युवाओं में योग्यता ही नहीं है। खेती करके जीविका चलाने वालों को मुख्यमंत्री कहते हैं कि गन्ना कम बोइये, इसकी जगह पर दूसरी खेती करें। योगी बताएं कि किसानों को कौन सी खेती करनी चाहिए और उसके लिए सरकार क्या सुविधाएं देने जा रही है। शिक्षा देश की तरक्की के लिए जरूरी है। पूरे देश में शिक्षा, चिकित्सा, बिजली, पानी पर बहस चल रही है। इसमें शिक्षा पर ज्यादा जोर देने की जरूरत है।