• संवाददाता

कर्नाटक: एक महीने में गांव के 19 लोगों की मौत, लोगों को 'भगवान' का डर


हरपनहल्ली कर्नाटक के हरपनहल्ली के एक गांव कांचिकेरी में एक महीने के अंदर 19 लोगों की मौत से स्थानीय लोगों में खौफ का माहौल है। जानकारी के मुताबिक, 19 में से 3 लोग दुर्घटना में मारे गए, एक प्रेमी जोड़े ने जान दे दी, चार लोगों ने आत्मयहत्या कर ली और छह लोगों की प्राकृतिक मौत हुई है। बताया गया कि इन लोगों के अलावा अवैध खनन में भी कुछ लोगों की खोपड़ियां पाई गईं, जिससे कुल मौतों की संख्या 19 मानी जा रही है। लगातार मौतों से गांव के लोग डर के साए में जीने को मजबूर हैं। माहौल कुछ ऐसा हो गया है कि लोग अपने पड़ोसियों के घर जाने से भी कतरा रहे हैं। लोगों को यह डर है कि कहीं उनके परिवार का भी कोई ना मर जाए।

गांव के देवता के नाराज होने का डर रिपोर्ट्स के मुताबिक, लोगों को लगता है कि 2012 से गांव के देवता ऊरम्मा का त्योहार ना मनाए जाने से यह सब हो रहा है। पहले रिवाज था कि हर साल में गांव के देवता की पूजा की जाए। आखिरी बार 2012 में इसे मनाया गया था लेकिन 2017 में नहीं मनाया गया।

इंसानों के साथ-साथ यहां के जानवर भी बीमार हैं। 'भगवान' से डरे लोगों ने 13 सितंबर को मृत्युंजय हवन कराने का फैसला किया है, इसके लिए श्रीशैल मठ के स्वामीजी को बुलाया गया है। हवन के साथ-साथ गांव के लोग यहां की सड़क के बीचोबीच लगे काले पत्थर की भी पूजा करेंगे। लोगों ने कोड़ी सिद्धेश्वर मंदिर में भगवान की मूर्ति स्थापित करने का फैसला किया है।