• शिव वर्धन सिंह

अमित शाह के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज, नोटिस भेजी गई


कोलकाता तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक मुखर्जी ने बीजेपी प्रमुख अमित शाह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि बीजेपी अध्यक्ष ने कोलकाता में 11 अगस्त को एक जनसभा में उनके खिलाफ अपमानजनक बयान दिया था। मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट ने उन्हें अमित शाह को नोटिस देने का निर्देश दिया। साथ ही अगली सुनवाई 28 सितंबर को होगी। तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी कोलकाता के मुख्य मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट की अदालत की आ‍ठवीं पीठ के समक्ष उपस्थित हुए। उन्होंने लिखित अर्जी देकर दावा किया है कि शाह ने उनके खिलाफ अपमानजनक बयान दिया था। मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट ने उन्हें अमित शाह को नोटिस देने का निर्देश दिया। अदालत ने कहा कि अभिषेक बनर्जी द्वारा दर्ज कराए गए आपराधिक मानहानि के मामले पर 28 सितंबर को सुनवाई होगी। मुख्यमंत्री के भतीजे ने 13 अगस्त को अमित शाह को कानूनी नोटिस भेजकर उनसे माफी मांगने को कहा था। नोटिस में अमित शाह से कहा गया था कि उन्होंने अपने भाषण के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के भतीजे के खिलाफ हल्के तौर पर इशारा करते हुए कई गंभीर आरोप लगाए।

बयानों से प्रतिष्ठा को गंभीर नुकसान इसमें कहा गया, 'चूंकि यह सबको पता है कि मेरे मुवक्किल ममता बनर्जी के भतीजे हैं और राजनीति में सक्रिय हैं, आपके भाषण से मेरे मुवक्किल के शुभचिंतकों को पता चल गया कि आप मेरे मुवक्किल की तरफ संकेत कर रहे थे।' अभिषेक बनर्जी के वकील संजय बसु ने दावा किया कि इन फर्जी बयानों से अपने शुभचिंतकों और देश के नागरिकों के बीच उनके मुवक्किल की प्रतिष्ठा को गंभीर नुकसान पहुंचा है।

अमित शाह को नोटिस संजय बसु ने कहा कि अभिषेक इस आरोप से इनकार करते हैं कि वह केंद्र से पश्चिम बंगाल राज्य को कथित रूप से मिले 3 लाख 59 हजार करोड़ रुपये या किसी भी दूसरी धनराशि में कथित रूप से किसी हेरफेर में शामिल हैं। नोटिस में अमित शाह से अभिषेक के खिलाफ मानहानि करने वाले किसी भी तरह की टिप्पणी, बयान ना देने या उनका प्रसार ना करने को कहा गया था।