• सौरभ चटर्जी, दिल्ली

NCP की वंदना चव्हाण हो सकती है राज्यसभा उपसभापति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार


नई दिल्ली राज्यसभा में उपसभापति पद के लिए नौ अगस्त को होने वाले चुनाव में एनसीपी की वंदना चव्हाण विपक्ष की उम्मीदवार बन सकती हैं। इस बारे में अंतिम निर्णय मंगलवार शाम को इन दलों के नेताओं की बैठक में किया जाएगा। विपक्षी दलों के नेताओं की इस मुद्दे पर दूसरी बार बैठक के दौरान यह निष्कर्ष निकला कि चव्हाण को न केवल विपक्षी दलों बल्कि एनडीए के कुछ सहयोगियों का भी समर्थन मिल सकता है। एक वरिष्ठ विपक्षी नेता ने बताया, ‘भले ही हम एक बार और मिलें किंतु यह लगभग तय है कि एनसीपी की चव्हाण विपक्ष की उम्मीदवार होंगी।’ अधिकतर विपक्षी दलों ने चव्हाण के नाम पर सहमति जतायी किंतु उन्होंने अंतिम समय में बदलाव की भी गुंजाइश छोड़ रखी है। चव्हाण के नाम का प्रस्ताव बहुजन समाज पार्टी के नेता सतीश चन्द्र मिश्रा ने किया और तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन + ने इसका अनुमोदन किया। इस प्रस्ताव का कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने समर्थन किया। उल्लेखनीय है कि हाल ही में सेवानिवृत्त हुये उपसभापति पी जे कुरियन का कार्यकाल पिछले महीने यानी जुलाई में समाप्त हो गया था। एनडीए की तरफ से उपसभापति चुनाव के लिए अभी तक किसी प्रत्याशी के नाम की औपचारिक घोषणा नहीं हुई है। सूत्रों ने बताया कि बिहार से जेडीयू सदस्य हरिवंश एनडीए के उम्मीदवार हो सकते हैं। 244 सदस्यीय उच्च सदन में उपसभापति चुनाव को जीतने के लिए 123 मतों की आवश्यकता पड़ेगी। यदि एआईएडीएमके (13), बीजेडी (नौ), टीआरएस (छह) और वाईएसआर कांग्रेस (दो) का समर्थन एनडीए को मिल जाता है तो उसके पास 126 मत हो जाएंगे। उच्च सदन में बीजेपी के 73 और कांग्रेस के 50 सदस्य हैं। भाजपा के सहयोगी जेडीयू, शिवसेना और अकाली दल के क्रमश: छह और तीन- तीन सदस्य हैं।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.