• कीर्ति देशवाल,दिल्ली

उन देशों के बारे में जहां नागरिकता हासिल करना है चुटकियों का काम


नई दिल्ली पीएनबी फ्रॉड केस में आरोपी मेहुल चोकसी कैरेबियाई देश एंटीगा और बरबूडा में है और उसने वहां की नागरिकता भी ले ली है। मेहुल चोकसी कानूनी तरीके से एंटीगा बरबूडा की नागरिकता वहां के 'सिटिजनशिप वाय इन्वेस्टमेंट प्रोग्राम' के तहत ली है। दुनिया में ऐसे कई देश हैं जहां आसानी से नागरिकता मिल जाती है। इसके एवज में उस देश में ज्यादा से ज्यादा निवेश करना होता है। आइए बताते हैं आपको ऐसे ही कुछ देशों के बारे में जहां बिना किसी रुकावट दूसरी नागरिकता ली जा सकती है...

कैरेबियाई देश 1. निवेश से लें एंटीगा ऐंड बरबूडा की नागरिकता आवेदक को नैशनल डिवेलपमेंट फंड (NDF) में 2 लाख डॉलर (1 करोड़ 37 लाख 57 हजार रुपये) का योगदान करना होता है या फिर मंजूरी प्राप्त रियल एस्टेट प्रॉजेक्ट्स में 5 साल के कॉन्ट्रैक्ट के तहत 4 लाख डॉलर (2 करोड़ 75 लाख 14 हजार 200 रुपये) निवेश करने होते हैं। इसके अलावा अकेले डेढ़ लाख डॉलर सीधे किसी बिजनस में निवेश किया जा सकता है। हालांकि,आवेदक और उसके परिवार को नागरिकता देने से पहले इस प्रक्रिया की कड़ी जांच की जाती है।

2. ग्रेनाडा की नागरिकता देश की अर्थव्यवस्था या रियल एस्टेट डिवेलपमेंट में सीधे 20 लाख डॉलर निवेश कर कोई आवेदक नागरिकता प्राप्त कर सकता है। इसके साथ ही उसे काम करने का भी अधिकार मिलता है। ग्रेनाडा में रहने के अलावा यह US E2 इन्वेस्टमेंट वीजा प्रोग्राम के लिए भी रास्ते खोलता है जो भारतीयों में काफी लोकप्रिय है।

3. सेंट किट्स ऐंड नेवस 4 लाख डॉलर की प्रॉपर्टी खरीदने वालों को खुद ही हीसेंट किटस् ऐंड नेवस में रहने का अधिकार मिल जाता है। इसके अलावा उन्हें 100 से ज्यादा देशों में वीजा-फ्री यात्रा करने की भी सुविधा मिलती है,जिनमें कनाडा, यूके, हॉन्ग-कॉन्ग और सिंगापुर जैसे देश शामिल हैं। अगर कोई शख्स पब्लिक चैरिटी में ढाई लाख डॉलर देता है या फिर सस्टेनबल ग्रोथ फंड (SGF) में डेढ़ लाख डॉलर का सहयोग करता है तो वह नागरिकता पाने के योग्य होता है।

यूरोप 1. साइप्रस रियल एस्टेट में 20 लाख यूरो यानी 15 करोड़ 92 लाख 84 हजार 708 रुपये के निवेश के जरिए आवेदक और पूरे परिवार को जल्द से जल्द नागरिकता मिल सकती है। सभी देशों के लोगों के लिए मौजूद इस प्रक्रिया को पूरा करने में कम से कम 6 महीने का समय लगा है। यूरोपीय संघ की नागरिकता हासिल करने के लिए यह सबसे छोटा रास्ता है।

2. माल्टा 5 साल के अनुबंध के तहत 2 लाख यूरो का निवेश। आवेदक का कोई क्रिमिनल रेकॉर्ड नहीं होना चाहिए क्योंकि माल्टा सरकार वैश्विक स्तर पर व्यापक आपराधिक जांच कर रही है। नागरिकता मिलने पर अमेरिका सहित 160 देशों की वीजा फ्री यात्रा की जा सकती है।

3. पुर्तगाल गोल्डन रेजिडेंट परमिट प्रोग्राम यह गैर ईयू निवेशकों के लिए शुरू किया गया प्रोग्राम है। आवदेकों को कम से कम 5 लाख यूरो की प्रॉपर्टी खरीदनी होती है। यह निवेश कमर्शल या रेजिडेंशल रियल एस्टेट में किया जा सकता है और इसके जरिए ईयू में व्यापार का रास्ता खुल जाता है। परमानेंट रेजिडेंसी पाने के लिए भी यही आसान रास्ता है।

अमेरिका अमेरिका के EB-5 वीजा पाए निवेशकों को एक नए और ऐसे कमर्शल एंटरप्राइज में निवेश करना पड़ता है, जो कम से कम 10 कर्मचारियों को फुल टाइम नौकरी दे। इसके लिए निवेश की न्यूनतम सीमा 10 लाख डॉलर है। EB-5 वीजा धारक को सशर्त ग्रीन कार्ड पाने में कम से कम डेढ़ साल का समय लगता है। अमेरिकी वीजा पाने के लिए यह सबसे आसान रास्ता है।

कनाडा ब्रिटिश कोलंबिया आंत्रप्रन्योर प्रोग्राम आवेदकों को प्रांतों में नया बिजनस शुरू करना होता है या पुराने बिजनस का विस्तार करना होता है। इसके बाद ही वह ब्रिटिश कोलंबिया प्रोविंशल नॉमिनी प्रोग्राम के तहत कनाडाई परमानेंट रेजिडेंसी के लिए योग्य होता है। इसके लिए आवेदक की निजी कुल संपत्ति 6 लाख कनाडाई डॉलर की होनी चाहिए। उसका निवेश कम से कम 2 लाख कनाडाई डॉलर का होना चाहिए और उसने कम से कम एक शख्स को रोजगार दिया हो।

ऑस्ट्रेलिया इनवेस्टर स्टीम वीजा बिजनस इनवेस्टमेंट वीजा शुरुआत में अस्थाई तौर पर 4 साल के लिए दिया जाता है। इसके बाद, व्यापार करने आए प्रवासी परमानेंट बिजनस वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदक के पास कम से कम 20 लाख 25 हजार ऑस्ट्रेलियाई डॉलर की कुल संपत्ति होनी चाहिए। निवेशकों को ऑस्ट्रेलिया के क्षेत्र में कम से कम 15 लाख ऑस्ट्रेलियाई डॉलर का निवेश करना पड़ेगा।