• सौरभ चटर्जी,लखनऊ/दिल्ली

मुलायम बोले- 'सरकार में बैठे लोगों को ही नहीं पता यूपी में मुख्यमंत्री क्या कर रहे हैं


नई दिल्ली अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी (एसपी) के संरक्षक और आजमगढ़ से सांसद मुलायम सिंह यादव ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर निशाना साधा। मुलायम सिंह यादव ने कहा, 'आपकी सरकार में बैठे लोगों को ही नहीं पता है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री क्या कर रहे हैं।' यही नहीं, मुलायम सिंह ने केंद्र की मोदी सरकार से तीन समस्याओं को दूर करने के लिए कहा। उन्होंने कहा, 'किसान, युवा और व्यापारियों की दिक्कतों को दूर करने पर जोर देना चाहिए।'

एसपी संरक्षक मुलायम सिंह ने कहा, 'अमेरिका एक समय बहुत गरीब देश था लेकिन उसने किसानों को मौका दिया और उन्हें घाटा नहीं होने दिया। किसानों को मौका देकर अमेरिका आगे पहुंचा है, हिंदुस्तान का किसान सबसे ज्यादा मेहनती है। इसके बावजूद पैसे के अभाव में लोगों की जान जा रही है। खाद, बीज, सिंचाई सबकुछ महंगा हो गया है।' बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, 'कैराना, फूलपुर (डेप्युटी सीएम की सीट), गोरखपुर (यूपी के सीएम की सीट) भी समाजवादी पार्टी जीत गई। यही तो संदेश है।' मुलायम सिंह ने कहा, 'मैं यही बताना चाहता हूं कि किसान, बेरोजगार और व्यापारी बहुत परेशान है। व्यापारी रो रहा है।'

पहले आरोपों की झड़ी, फिर अचानक गले मिल राहुल ने मोदी को किया हैरान बता दें कि अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान अलग ही नजारा देखने को मिला। दरअसल, पीएम मोदी और बीजेपी पर हमला बोलते-बोलते राहुल गांधी जाकर मोदी से गले मिल आए। अचानक से कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के इस जैस्चर से एक पल के लिए पीएम मोदी भी चकित रह गए। इसके तुरंत बाद पीएम मोदी भी राहुल गांधी से हाथ मिलाते हुए उन्हें शुभकामना देते हुए दिखे। मोदी से गले मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि हिंदू होने का मतलब यही होता है। हालांकि, अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर ने इसपर तंज कसते हुए कहा कि यह संसद है, यहां मुन्ना भाई की पप्पी-झप्पी नहीं चलेगी। दरअसल, राहुल गांधी ने अपने संबोधन में नोटबंदी, राफेल डील जैसे मसलों को उठाकर पीएम मोदी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण समेत पूरी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। इस दौरान लोकसभा की कार्यवाही भी बाधित हुई। बीजेपी के हंगामे के बाद जब कार्यवाही फिर शुरू हुई तो राहुल गांधी ने किसान लोन माफी और मॉब लिन्चिंग के मसले उठाए। राहुल गांधी ने एक इंटरनैशनल मीडिया हाउस का जिक्र करते हुए कहा कि पहली बार बाहर लिखा जा रहा है कि हिंदुस्तान अपनी महिलाओं की सुरक्षा नहीं कर पा रहा।