• एस के चित्तोड़ी

निर्माण श्रमिकों के पंजीयन एवं श्रमिक कल्याण संगोष्ठी में श्रमिकों का कार्यक्रम आयोजित किया गया


फिरोजाबाद मुख्य अतिथि माननीय मंत्री श्रम एवं सेवायोजन श्री स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा पालीवाल हॉल में निर्माण श्रमिकों के पंजीयन एवं श्रमिक कल्याण संगोष्ठी में श्रमिकों का कार्यक्रम आयोजित किया गया। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद विकास की कल्याणकारी योजनाओं को श्रमिकों तक पहुंचाना है और उनको विधिवत जानकारी कराना है, जिससे उनको पूरी तरह से लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि रामलीला मैदान पर बड़े पैमाने पर श्रमिकों का विशाल शिविर/पंडाल लगाकर 400 से अधिक श्रमिकों का पंजीयन किया गया। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के बाद यह कार्य पहली बार किया जा रहा है कि मजदूरों के बीच जाकर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। माननीय मंत्री जी ने मजदूरों को संबोधित करते हुए कहा कि श्रम विभाग द्वारा जिन मजदूरों का पंजीकरण होगा उनको भवन निर्माण में कार्यों का बेहतर लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि बड़ी-बड़ी सड़कें बनाने वाले, ईट भट्ठों पर कार्य करने वाले, मनरेगा में कार्य करने वाले मजदूरों का श्रम विभाग में 20 रू0 शुल्क के साथ पंजीकरण किया जाता है। उन्होंने श्रमिकों को विभिन्न प्रकार से लाभ मिलने वाली योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि पंजीकरण मजदूर के घर में बेटी-बेटा पैदा होने पर, पहली बार विकलांग बेटी के पैदा होने, विधवाओ से शादी करना, मृत्यु होने पर तथा अंत्योष्टि आदि के लिए आर्थिक सहायता राशि की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यदि किसी श्रमिक का बेटा-बेटी इंजीनियरिंग अथवा मेडिकल में दाखिला पाने के लिए पूरी फीस द्वारा प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि यदि किसी मजदूर की जमीन निजी है तो ऐसे मजदूरों का आवास निर्माण के लिए एक लाख और शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रू0 की आर्थिक सहायता राशि सरकार द्वारा दी जाती है इसी के साथ उन्होंने बताया कि पंजीकृत श्रमिकों के लिए गंभीर बीमारी जैसे कैंसर, हृदय रोग, किडनी तथा लीवर आदि के इलाज के लिए विभाग द्वारा पूरा खर्चा वहन किया जाता है। माननीय मंत्री जी द्वारा मृत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना के 15 लाभार्थी, अंत्योष्टि सहायता योजना के 15, शिशु हितलाभ योजना के 77, मातृत्व हितलाभ योजना के 56, बालिका मदद योजना के 33, कन्या विवाह सहायता योजना के 40, चिकित्सा सहायता योजना के 754, संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के 03 तथा अक्षमता पेंशन सहायता योजना के 01, कुल 994 लाभार्थियों को एक करोड़ तीन लाख 48 हजार की धनराशि के प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। इस अवसर पर माननीय विधायक मनीष असीजा ने मजदूरों की मेहनत और दर्द को विस्तार से प्रकट किया और उनको मिलने वाली योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कराई। शहर की मेयर नूतन राठौर ने अपने विचार व्यक्त किए। माननीय विधायक शिकेाहाबाद मुकेश वर्मा, प्रोफेसर ओमपाल सिंह निडर,तथा सहायक श्रमायुक्त राजीव कुमार सिंह सहित सभी अधिकार उपस्थित रहे।