• राजेश तिवारी

कल्याण जंक्शन पर बढ़ी अराजकता व् अनियमितता, अवैध फेरीवाले व् किन्नरो से परेशान रेल यात्री


जनता के पैसे का दुरूपयोग है स्थानक निर्देशक का पद : संतोष सिंह

कल्याण : (राजेश तिवारी ):

महाराष्ट्र राज्य में सबसे चर्चित रेलवे स्टेशन कल्याण जंक्शन है जहा पर आराजकता व् अनियमितता बढ़ने की शिकायत भारतीय राष्ट्रिय ट्रेड यूनियन कांग्रेस के महाराष्ट्र सचिव संतोष सिंह ने रेलवे बोर्ड अध्यक्ष नई दिल्ली व् अन्य वरिष्ठ अधिकारिओ से की है| कल्याण स्टेशन पर कई असामाजिक तत्व सुबह से घूमते रहते है प्लेटफार्म क्र ३ से देखने पर पता चलता है कि प्लेटफार्म क्. ४ आने वाली गाड़ियों में पीछे की तरफ से कई यात्री भिन्न भिन्न डिब्बों में चढ़ते है| गाड़ियों के शुरुवाती स्टेशनों से चढ़कर रेलयात्रियों से बदतमीजी व् अवैध वसूली करने वाले किन्नर भी यहाँ चढ़ते व् उतरते है गैर क़ानूनी रूप से अवैध फेरीवाले अस्वास्थ्यकर खाद्य बेचते हुए देखे जाते है इनके द्वारा बेचेजाने वाले खाद्य पदार्थ यात्रियों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है | प्लेटफार्म क्र.१, ६ व् ७ पर आवारा बीमार जख्मी कुत्ते पड़े रहते है ५ व् ६ पर कई जगह भिखारीयो द्वारा यात्रिओ से भीख मांग कर उन्हें तंग किया जाता है | अधिकारी वर्ग अपने कर्तव्यों की उपेक्षा करके अधिकारों के प्रयोग पर अधिक ध्यान देते हुए व्यक्ति को परेशान तंग करने के अपने अधिकारों व् कानून के प्रति अधिक सतर्क व् जागरूक रहते है व् नए नए हथकंडे अपनाते रहते है इनकी शिकायत करने पर रेल अधिकारी शिकायत कर्त्ता को सरकारी काम में बाँधा उत्पन्न करने व् सरकारी कर्मचारी से बदतमीजी करने के तहत फ़साने का भय दिखा कर डरा देते है| संतोष सिंह ने आरोप लगाया है की स्थानक निर्देशक नाम का जो अधिकारी नया नियुक्त हुआ है यह किसके सिफारिश की उपज है ऐसा कौन सा नया प्रावधान या नया फार्मूला निकला गया है की उनकी नियुक्ति से सारी आराजकता खत्म व् अनियमितताए नियमित हो जाएगी| इन्हे ऐसे कौन से नए अधिकार दिए गए है , कौन सी नई ट्रेनिंग दी गयी है क्या वजह है इनकी नियुक्ति का ?, स्टेशन प्रबंधक के अधिकारो के अतिरिक्त कौन से नए अधिकार इन्हे दिए गए है , इनकी नियुक्ति का की औचित्य है ? क्या ये जनता के पैसे का दुरूपयोग नहीं है ? संतोष सिंह न ेआरोप लगाया है की इनकी नियुक्ति के बाद से कल्याण स्टेशन पर अवैध कामो और अराजकताओं में वृद्धि हुई है रेलवे के कैंटीनों पर प्रतिबंधित समानो की विक्री होती है ऐसा आरोप लगा कर स्टेशन निर्देशक के नियुक्ती को गलत बताया है और स्टेशन पर हो रहे अवैध धंधे व् अराजकताओं पर रोक लगाने की मांग किये है"|"