• संवाददाता

'राम भक्तों पर गोली चलाने वाले आज हमसे जवाब मांग रहे हैं'- योगी आदित्यनाथ


लखनऊ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी और विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन लोगों ने राम भक्तों पर गोलियां चलवाईं, वे हमसे जवाब मांग रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान उपद्रव करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। योगी ने कहा कि उपद्रव करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, 'जो लोग संविधान की दुहाई देते हैं। वही संविधान को तार-तार करने का काम अक्सर करते हैं। संवैधानिक प्रमुख पर कागज के गोले फेंके जाते हैं तो इस पर उनकी बहादुरी समझी जाती है।' योगी ने आगे कहा, 'जिन्होंने इसी सदन में विधायकों को चोटिल किया था वे विधायकों के सम्मान की बात करते हैं। जिन लोगों ने तंदूर जैसी घटनाओं को अंजाम दिया था वह महिला सशक्तीकरण की दुहाई देते हैं।' योगी ने आगे कहा, 'प्रदेश की बालिकाओं पर जब निर्मम कृत्य हुए तो कहा कि के साथ वे बच्चों से गलती हो जाती है वो लोग यहां पर महिला सुरक्षा की बात कर रहे हैं। जिन लोगों ने अयोध्या में राम भक्तों पर गोली चलाकर अयोध्या की मान्यता को धूल धूसरित करने का प्रयास किया था वे आज वे आज उपद्रवियों पर होने वाली कार्रवाई पर हमसे जवाब-तलब का प्रयास करते हैं।' यही नहीं योगी आदित्यनाथ ने सदन में तुलसीदास की चौपाई सुनाते हुए रामराज्य की परिभाषा भी बताई। योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'राज्यपाल ने अपने अभिभाषण में कहा था कि हमारी सरकार रामराज्य को प्रस्तुत करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। रामराज्य तुलसीदास ने तो बहुत स्पष्ट किया है कि राम राज्य कोई धार्मिक राज्य नहीं है। उन्होंने रामराज्य की परिभाषा स्पष्ट किया है- दैहिक दैविक भौतिक तापा। राम राज नहिं काहुहि ब्यापा॥ सब नर करहिं परस्पर प्रीती। चलहिं स्वधर्म निरत श्रुति नीती।' योगी ने आगे चौपाई का अर्थ बताते हुए कहा, 'हर प्रकार के दैविक, दैहिक और भौतिक दुखों से सवर्था मुक्ति का उपाय किसी भी लोककल्याणकारी शासन का दायित्व बनता है हमने इसी को धर्म से जोड़ा है। किसी की उपासना से नहीं।'


1 व्यू

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.