• संवाददाता

कानपुर: अर्बन हेल्थ सेंटर निरीक्षण किया


कानपुर नगर। शासन की मंशा है कि स्वास्थ्य सेवाओं में किसी तरह कोई कमी न रहे आने वाली मरीजो को गुणवत्तापूर्ण ईलाज मिले इसमे किसी प्रकार की लापरवाही स्वीकार नही की जायेगी समस्त स्वास्थ केन्द्रो , पीएचसी ,सीएचसी , सरकारी अस्पतालों में ओपीडी समय से प्रारम्भ हो विशेष तौर पर सफाई का ध्यान रखा जाये समस्त अस्पताल परिसर में मच्छर मारने वाली दवा का छिड़काव होता रहे ,दवा की कमी न रहे।आने मरीजों को गुणवत्तापूर्ण ईलाज मिले । लेडी डॉक्टर अनिता चौधरी के अपने ओपीडी समय से 2 घण्टे देरी से आने पर कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिये। साथ ही 3 ए एन एम के उपस्थित होने पर उनसे स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिये। वहां तैनात फार्मिसिस्ट द्वारा दवा के रख रखाव स्टाक रूम को मेनटेन नही किया गया ,स्टाक रजिस्टर मेंदवाओं की इंट्री नही की गई कुछ दवाइयां भी कम मिली तथा आई 0वी 0 की बोतलो को चूहों द्वारा कटी मिली जिस पर उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिये साथ ही नगरीय स्वास्थ केंद्रों का निरीक्षण करने वाले नोडल अधिकरी व एसीएमओ को प्रतिकूल प्रवेष्टि दिये जाने के निर्देश दिये। उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी श्री विजय विश्वास पन्त द्वारा अर्बन हेल्थ सेंटर रावतपुर के औचक निरीक्षण के दौरान व्यक्त किये। जिलाधिकारी ने उपस्थिति रजिस्टर को देखा तो तीन एएनएम अनुपस्थित थी जिस पर उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को उनसे स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिये।उसी समय मुख्य डॉक्टर अनिता चौधरी 10 बजे आने पर उनके खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए।उन्होंने आने वाले मरीजों के पर्चा बनाने की प्रतिक्रिया पूछी तो डॉक्टर ने बताया कि पर्चा दिया जाता है जिसका कोई रिकार्ड नही दिखा पाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की ।जिलाधिकारी ने स्टाक रूम का निरीक्षण किया जिसमें आई वी की बोतलों को चूहों ने काट रखा था तथा मल्टी विटामिन स्टाक रजिस्टर से मिलान नही हो पाया व बहुत सी दवा स्टाक के हिसाब से रजिस्टर के मिलान में नही मिली व स्टाक रूम में रखी दवा व सामग्री अस्त व्यस्त मिली जिस पर जिलाधिकारी ने फार्मासिस्ट के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को देते हुए नगरी स्वास्थ्य केंद्रों के रख रखाव का निरीक्षण करने वाले नोडल अधिकारी तथा एसीएमओ को प्रतिकूल प्रवेष्टि दिये जाने के कड़े निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने माइनर ओ0टी0 रूम का निरीक्षण किया जिसमें बेड टूटा हुआ था चादर गन्दी थी तथा रूम में ही मच्छर मारने वाली दवा रखी हुई थी उसी रूम में ऑक्सीजन सिलेण्डर रखा था। जिसे जिलाधिकारी ने कैसे चालू किया जाता है के विषय मे उपस्थित डॉक्टर से पूछा तो उनके द्वारा बताया गया कि उसे खोलने के लिए रिंच नही है जिस पर जिलाधिकारी ने स्टाक रजिस्टर में उसका अंकल है कि विषय मे फार्मासिस्ट सतेंद्र कुमार से पूछा तो उसके द्वारा बताया गया कि अंकन नही हुआ है जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि आप की कार्य प्रणाली बहुत खराब है । अर्बन सेंटर में साफ सफाई बहुत ही खराब थी जिस पर फटकार लगाते हुए सफाई कराने के निर्देश दिये।


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.