• संवाददाता

राहुल गांधी के साथ दिल्ली कांग्रेस करेगी 'हार पर चर्चा'


नई दिल्ली लोकसभा चुनाव में हार की समीक्षा और आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर शुक्रवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ प्रदेश कांग्रेस के नेताओं की बैठक होने वाली है। इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित, तीनों वर्किंग प्रेजिडेंट और सातों लोकसभा उम्मीदवारों के साथ-साथ प्रदेश प्रभारी पीसी चाको शामिल होंगे। प्रदेश कांग्रेस लगातार चुनाव हार रही है, बावजूद पार्टी के अंदर नेताओं के बीच एकजुटता नहीं है। जनहित के मुद्दे पर भी कांग्रेस के नेता साथ-साथ चलने को तैयार नहीं हैं। बिजली-पानी पर भी प्रदेश कांग्रेस सत्ता पक्ष की कमजोरियों को जनता के सामने लाने में असफल रही है। वक्त और हालात पर गौर करें तो इस बैठक के कई मायने हो सकते हैं। कहा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव में हार की समीक्षा के साथ साथ एक बार फिर इस बैठक में प्रदेश नेतृत्व और गठबंधन की बातों पर चर्चा हो सकती है। यही नहीं, जिस प्रकार गुटबाजी चल रही है उससे आगामी चुनाव पर होने वाले असर पर भी बातें हो सकती हैं। दिल्ली में विधानसभा चुनाव के अब कुछ ही महीने बाकी हैं। कांग्रेस का वोट प्रतिशत भले ही बढ़ा है, लेकिन उम्मीद पर पार्टी खरा नहीं उतर पाई है। लाखों वोटों से हार हुई है, एक भी सीट पर कांग्रेस कड़ी टक्कर नहीं दे पाई। कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि परिवर्तन के दौर से गुजर रही है, लगातार नेतृत्व में बदलाव किया जा रहे हैं, कई तरह के नए विकल्प की तलाश की जा रही है, उसी कड़ी में वर्किंग प्रेजिडेंट का तरीका भी अपनाया गया। पार्टी सूत्रों की मानें तो दिल्ली में अभी तक वर्किंग प्रेजिडेंट का रिजल्ट अच्छा नहीं कहा जा सकता है। इसलिए इस बैठक में इस विकल्प पर नए सिरे से चर्चा की संभावना है। इसी तरह प्रदेश नेतृत्व में भी बदलाव की बातें उठ सकती है। पार्टी के एक नेता ने कहा कि अभी तक प्रदेश कांग्रेस मुद्दे की राजनीति नहीं कर पा रही है, जिस प्रकार विपक्ष का अटैक होता है, वह नहीं हो रहा है। सचाई यह है कि कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता घरों से राजनीति कर रहे हैं।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.