• संवाददाता

पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान हिंसा, CPM नेता सलीम के काफिले पर भी हमला


कोलकाता केंद्र की सत्ता पर काबिज होने के लिए चुनावी 'संग्राम' का दूसरा चरण चल रहा है। इस दौरान पश्चिम बंगाल के रायगंज में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने जमकर हंगामा किया। रायगंज में मतदान के वक्त बीजेपी-टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा को लेकर चुनाव आयोग ने संबंधित निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। इलेक्शन कमिशन ने निर्वाचन अधिकारी से इसके फुटेज देने को भी कहा है। उधर, सीपीएम प्रत्याशी मोहम्मद सलीम की गाड़ी पर इस्लामपुर इलाके में पथराव कर दिया गया। सीपीएम ने हमले के पीछे टीएमसी का हाथ बताया है। गौरतलब है कि चुनाव से पहले बीजेपी ने बंगाल में हिंसा की आशंका जताते हुए पूरे राज्य को अतिसंवेदनशील क्षेत्र घोषित करने की मांग भी की थी। खास बात यह भी है कि सुरक्षा कारणों को देखते हुए ही पश्चिम बंगाल में सभी सात चरणों में मतदान कराए जा रहे हैं। वेस्ट बंगाल में लोकसभा चुनाव के शेष छह चरणों में केंद्रीय सुरक्षाबलों के 41 हजार जवानों की तैनाती किए जाने की जानकारी भी अधिकारियों द्वारा दी गई। अधिकारियों ने इस बात को भी माना कि राज्य में आम चुनावों में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। बता दें कि देश भर में जारी लोकसभा चुनाव के बीच पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की विधायक रत्नाघोष ने केंद्रीय सुरक्षाबलों को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को उकसाते हुए कहा था कि हम केंद्रीयबलों की परवाह नहीं करेंगे, अगर वे ज्यादा सक्रिय होंगे तो मैं महिला मोर्चा सदस्यों से अनुरोध करूंगी कि वे झाड़ू उठाएं और उन पर हमला करके भगा दें।' बीजेपी की महासचिव और रायगंज से उम्मीदवार देबश्री चौधरी ने आरोप लगाया कि टीएमसी कार्यकर्ता बूथ कैप्चरिंग की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 'टीएमसी कार्यकर्ता बूथ कैपचरिंग की कोशिश में हैं। वे मुसलमानों के बीच जाकर कैंपेनिंग कर रहे हैं जबकि आज प्रचार नहीं हो सकता।' बीजेपी दूसरे चरण में अपनी 27 सीटों को बचाए रखने के लिए पूरी ताकत झोंक चुकी है। पार्टी को ओडिशा, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और नार्थ ईस्‍ट में अच्‍छे प्रदर्शन की उम्‍मीद है। उधर, कांग्रेस पार्टी ने इस चरण की अपनी 12 सीटों को बचाए रखने और तमिलनाडु, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्‍ट्र, यूपी में जोरदार प्रदर्शन के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.