• संवाददाता

ओडिशा में चुनाव आयोग ने किसानों के लिए शुरू हुई 'कालिया' योजना पर लगाई रोक


भुवनेश्वर ओडिशा में किसानों के लिए शुरू की गई कालिया (कृषक असिस्टेंस फॉर लाइवलीहुड ऐंड इनकम ऑग्मेंटेशन) योजना को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजेडी) आमने-सामने आ गए हैं। बीजेपी ने इस योजना को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत कर दी है, जिसपर कार्रवाई करते हुए आयोग ने स्कीम पर रोक लगा दी है। इसपर सीएम नवीन पटनायक के कड़ा विरोध दर्ज कराया है और कहा है कि किसान इसका करारा जवाब देंगे। नवीन पटनायक ने कहा, 'किसानों के लिए हमारी सरकार द्वारा चलाई जा रही कालिया स्कीम को चुनाव आयोग द्वारा रोके जाने के बारे में बात करने के लिए मैं मुख्य चुनाव अधिकारी से मिलने आया हूं और अपनी शिकायत दर्ज कराने आया हूं।' बता दें कि पिछले साल दिसंबर में शुरू हुई इस योजना के तहत छोटे और हाशिये के किसानों और भूमिहीन किसानों को इंश्योरेंस सपॉर्ट के साथ वित्तीय, आजीविका और कृषि समर्थन प्रदान किया जाना है। बीजेपी द्वारा इस योजना के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराने पर नाराजगी जताते हुए नवीन पटनायक ने कहा, 'कालिया स्कीम किसानों के लिए बेहद जरूरी है और इस समय में उन्हें फंड की बहुत जरूरत है। मुझे यह देखकर भी निराशा हो रही है कि बीजेपी ने चुनाव आयोग में कालिया स्कीम के बारे में शिकायत की है। किसान उन्हें करारा जवाब देंगे।' वहीं, इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, 'उन्होंने कालिया स्कीम के लिए बजट निर्धारित नहीं किया है। लाभार्थियों की लिस्ट में मंत्रियों के रिश्तेदारों के नाम हैं। किसानों के नाम कहां है? यही कारण है कि चुनाव आयोग ने इस स्कीम को रोक दिया है।'


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.