• संवाददाता

बीजेपी के घोषणापत्र में अनुच्छेद 370 और 35ए खत्म करने का वादा


नई दिल्ली भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इसे संकल्प पत्र का नाम दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, अरुण जेटली और सुषमा स्वराज की मौजूदगी में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने घोषणापत्र के मुख्य बिंदुओं के बारे में जानकारी दी। बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टो में राष्ट्रीय सुरक्षा के अलावा गरीबों, किसानों और युवाओं से तमाम वादे किए हैं। बीजेपी का संकल्प पत्र कांग्रेस के घोषणापत्र से कितना अलग है बीजेपी- देश की सुरक्षा के साथ किसी सूरत में समझौता नहीं करेंगे। आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की हमारी नीति जारी रहेगी। हम जनसंघ के समय से अनुच्छेद 370 के बारे में अपना दृष्टिकोण दोहराते हैं। जम्मू-कश्मीर में धारा 370 और 35ए को खत्म करेंगे। हमारा मानना है कि धारा 35ए राज्य के गैर स्थाई निवासियों और महिलाओं के खिलाफ भेदभावपूर्ण है। यह धारा जम्मू-कश्मीर के विकास में बाधा है। कश्मीरी पंडितों की सुरक्षित वापसी के लिए कदम उठाएंगे। देश में रक्षा साजोसामान के निर्माण के लिए मेक इन इंडिया डिफेंस के प्रति हम समर्पित हैं। केंद्रीय सुरक्षाबलों का आधुनिकीकरण करने की दिशा में आगे बढ़ेंगे। तटीय सुरक्षा को मजबूत करने के लिए कदम उठाएंगे। कांग्रेस- अगर हमारी पार्टी सत्ता में आती है तो राजद्रोह के अपराध को परिभाषित करने वाली भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124ए को खत्म किया जाएगा। इसके साथ-साथ आफस्पा (सशस्त्र बल विशेष अधिकार कानून 1958) में संशोधन करते हुए यौन हिंसा, गायब कर देना और यातना के मामलों में प्रतिरक्षा जैसे मुद्दों को हटाया जाएगा, जिससे सुरक्षाबलों और नागरिकों के बीच संतुलन बना रहे। कांग्रेस- न्याय (न्यूनतम आय योजना) के जरिए 72 हजार रुपये सालाना देने का वादा किया है। इस वादे के तहत हिंदुस्तान के 20 प्रतिशत गरीब परिवारों को हर महीने उनके अकाउंट में सीधे पैसा मिलेगा। हर साल 72 हजार रुपये और पांच साल में एक गरीब परिवार को इस योजना के तहत 3.60 लाख रुपये मिलेंगे। बीजेपी- 2022 आते-आते किसानों की आमदनी दोगुनी करेंगे। 1 लाख तक के किसान क्रेडिट कार्ड पर कर्ज लेने पर पांच साल के लिए जीरो ब्याज लगेगा। 25 लाख करोड़ ग्रामीण विकास पर खर्च करेंगे। सभी किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ मिलेगा। छोटे और सीमांत किसानों को 60 साल के बाद पेंशन की सुविधा देंगे। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों का पंजीकरण स्वैच्छिक होगा। जमीन का रिकॉर्ड डिजिटल होगा। कांग्रेस- किसानों के लिए एक अलग बजट लाएंगे। किसान अगर कर्ज न अदा कर पाए तो वह आपराधिक मामला न बनकर सिविल मामला बने, ऐसी व्यवस्था की जाएगी। मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम) को 150 दिन गारंटीड करेंगे। राहुल गांधी ने घोषणापत्र जारी करते हुए कहा था कि हम मनरेगा के 100 दिन बढ़ाकर 150 दिन करना चाहते हैं। बीजेपी- देश की अर्थव्यवस्था से जुड़े 22 बड़े सेक्टरों में रोजगार के नए अवसर पैदा करने के लिए ज्यादा से ज्यादा मदद देंगे। पूर्वोत्तर के राज्यों में रोजगार के अवसर मुहैया कराने के लिए नई स्कीम लेकर आएंगे। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत अभी 17 करोड़ से ज्यादा उद्यमियों को कर्ज मुहैया कराया जा चुका है। इसके लाभार्थियों की संख्या 30 करोड़ तक से जाने के लिए कदम उठाएंगे। 20 हजार करोड़ के सीड स्टार्टअप फंड के जरिए स्टार्टअप को प्रोत्साहित करेंगे। कांग्रेस- मार्च 2020 तक 22 लाख सरकारी रोजगार मुहैया कराए जाएंगे। इसके साथ ही 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार दिलाने का पार्टी के घोषणापत्र में वादा किया गया है। पार्टी ने वादा किया है कि तीन साल के लिए हिंदुस्तान के युवाओं को बिजनस खोलने के लिए किसी की इजाजत नहीं लेनी पड़ेगी। बीजेपी- सभी शिक्षण संस्थानों में सीटें बढ़ाएंगे। मैनेजमेंट, साइंस, लॉ कॉलेजों और इंजिनियरिंग इंस्टिट्यूट में भी सीटों की संख्या बढ़ाई जाएगी। वर्ष 2024 तक 200 नए केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय खोले जाएंगे। क्वॉलिटी शिक्षा मुहैया कराने के लिए नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टीचर्स ट्रेनिंग खोला जाएगा। इसके जरिए स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारा जाएगा। कांग्रेस- हमारा वादा है कि जीडीपी का छह प्रतिशत देश की शिक्षा व्यवस्था पर खर्च करेंगे। यूनिवर्सिटी, कॉलेज, आईआईटी और आईआईएम की सबके लिए उपलब्धता बनाना चाहते हैं। बीजेपी- देश में 75 नए मेडिकल कॉलेज और पोस्ट ग्रैजुएट मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। 1400 लोगों पर एक डॉक्टर का अनुपात लाएंगे। 2022 तक देश के हर गरीब के दरवाजे तक प्राथमिक चिकित्सा सुविधा मुहैया कराई जाएगी। आयुष्मान भारत योजना के तहत 2022 तक डेढ़ लाख हेल्थ ऐंड वेलनेस सेंटर (एचडब्ल्यूसी) खोले जाएंगे। यहां टेलिमेडिसिन और डायग्नोस्टिक लैबरेटरी की सुविधा उपलब्ध होगी। कांग्रेस- हेल्थ केयर में हमारा जोर प्राइवेट हेल्थ इंश्योरेंस पर नहीं होगा। इसके बजाए हम सरकारी अस्पतालों को मजबूत करने का काम करेंगे। गरीब से गरीब व्यक्ति को सबसे बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिले इसकी भी व्यवस्था कांग्रेस की सरकार आने पर की जाएगी। हमारा फोकस होगा कि गरीब से गरीब व्यक्ति को हाई क्वॉलिटी स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराई जा सके।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.