• संवाददाता

बीएसपी चीफ ने कहा कि कांग्रेस कोई भ्रम नहीं फैलाए


लखनऊ लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों में वार-पलटवार का सिलसिला जारी है। यूपी में महागठबंधन द्वारा कांग्रेस के खिलाफ दो सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारने के फैसले के जवाब में कांग्रेस ने राज्य की 7 सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारने का ऐलान किया था। हालांकि बीएसपी चीफ मायावती ने कांग्रेस की 'दरियादिली' को कोई भाव नहीं दिया और जोर का झटका देते हुए सोमवार को साफ कहा कि कांग्रेस 7 सीटें छोड़ने का भ्रम न फैलाए और वह राज्य की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने को स्वतंत्र है। मायावती के इस कदम का समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव ने भी समर्थन किया है। अखिलेश ने मायावती के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि यूपी में एसपी-बीएसपी-आरएलडी का गठबंधन बीजेपी को हराने में सक्षम है। कांग्रेस किसी तरह का कन्फ्यूजन ना पैदा करे। मायावती ने दो टूक कहा कि बीएसपी कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं करेगी। मायावती ने यह भी कहा कि समाजवादी पार्टी के साथ उनका गठबंधन राज्‍य में बीजेपी को पराजित करने में पूरी तरह से सक्षम है। बीएसपी अध्‍यक्ष ने ट्वीट कर कहा, 'कांग्रेस यूपी में भी पूरी तरह से स्वतंत्र है कि वह यहां की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा करके अकेले चुनाव लड़े आर्थात हमारा यहां बना गठबंधन अकेले बीजेपी को पराजित करने में पूरी तरह से सक्षम है। कांग्रेस जबर्दस्ती यूपी में गठबंधन के लिए 7 सीटें छोड़ने की भ्रांति ना फैलाए।' "यूपी में एसपी-बीएसपी-आरएलडी गठबंधन बीजेपी को हराने में सक्षम है। कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ्यूजन ना पैदा करे।" -अखिलेश यादव उन्‍होंने कहा, 'बीएसपी एक बार फिर साफ तौर पर स्पष्ट कर देना चाहती है कि उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में कांग्रेस पार्टी से हमारा कोई भी किसी भी प्रकार का तालमेल और गठबंधन आदि बिल्कुल भी नहीं है। हमारे लोग कांग्रेस पार्टी द्वारा आए दिन फैलाए जा रहे किस्म-किस्म के भ्रम में कतई ना आएं।' इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने ऐलान किया था कि वह उत्‍तर प्रदेश में 7 सीटों पर अपने प्रत्‍याशी नहीं उतारेगी। समाजवादी के चीफ अखिलेश यादव ने मायावती के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी-आरएलडी का गठबंधन बीजेपी को हराने में सक्षम है। कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ्यूजन ना पैदा करे। मायावती के बाद अखिलेश के यह बयान बेहद अहम माना जा रहा है। कांग्रेस ने इन सीटों पर मुकाबले में उतरने की बजाय महागठबंधन को एक तरह से वॉकओवर देने का फैसला लिया है। यूपी में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने एसपी-बीएसपी और आरएलडी के लिए 7 सीटों से उम्मीदवार नहीं उतारने का ऐलान किया। बता दें कि पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी रविवार से 4 दिनों के प्रदेश दौरे पर हैं और इस बीच राज बब्बर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर महागठबंधन के प्रति कांग्रेस पार्टी के सम्मान की बात कहकर बड़े संकेत देने की कोशिश की थी। राज बब्बर ने कहा कि फासीवादी ताकतों को हराने के लिए कांग्रेस पार्टी ने 7 सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'हम एसपी-बीएसपी और आरएलडी के लिए सीटें खाली छोड़ रहे हैं। ये सीटें हैं मैनपुरी, कन्नौज, फिरोजाबाद, तथा वे सीटें जहां से मायावती जी, आरएलडी के नेता जयंत जी और अजित सिंह चुनाव लड़ेंगे। हम गोंडा और पीलीभीत की सीट से अपने उम्मीदवार नहीं उतार रहे हैं। यहां हमारी सहयोगी अपना दल के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे।'


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.