• शिव वर्धन सिंह, कानपुर

कानपुर में बोले पीएम, देश के नागरिकों की ताकत से ही आतंकवाद के खिलाफ मैं लड़ पा रहा: मोदी


कानपुर चुनावी साल में यूपी पर सौगातों की बारिश करने के साथ ही शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने कानपुर में पुलवामा आतंकी हमले के बहाने विपक्ष पर तीखा हमला बोला। पीएम ने कहा कि एक तरफ जहां हमारे जवानों की वीरता से हमारा सीना चौड़ा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ घर के भीतर ही कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनके बयान का फायदा आतंकियों के सरपरस्त उठा रहे हैं। पीएम ने कहा, 'पाकिस्तान इस बार रंगे हाथों पकड़ा गया। आज वह दबाव में है। वह दुनिया में मुंह दिखाने लायक नहीं रहा है लेकिन ऐसे लोगों (देश के भीतर मौजूद लोग) के बयान को ही दुनिया में बांटकर भ्रम फैला रहा है।' पीएम ने कहा कि देश की सवा सौ करोड़ जनता की ताकत से ही आतंकवाद को जड़ से खत्म किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आपकी इसी ताकत से मैं आतंक के खिलाफ ऐसे सख्त कदम उठा पा रहा हूं। इस दौरान पीएम ने लखनऊ में पिछले दिनों कश्मीरियों के साथ हुई मारपीट की घटना का भी जिक्र किया और इसके लिए सीएम की तारीफ की। पीएम ने कहा, 'देश में एकता का वातावरण बनाए रखना बहुत अहम है। लखनऊ में कुछ सिरफिरे लोगों ने हमारे कश्मीरी भाइयों के साथ जो हरकत की थी, उस पर यूपी सरकार ने त्वरित कार्रवाई की है। मैं अन्य राज्य सरकारों से भी आग्रह करूंगा कि जहां भी ऐसी हरकत करने की कोई कोशिश करे, उस पर कठोर कार्रवाई की जाए।' कानपुर में कई सारी योजनाओं के शिलान्यास के बाद अपने संबोधन में पीएम ने विपक्ष पर करारा हमला बोला। पीएम ने कहा, 'पुलवामा हमले के बाद हमारे वीर सेनानियों ने जो पराक्रम दिखाया उस पर हम सभी को गर्व है। पर, अफसोस है कि कुछ लोग उनके पराक्रम को नीचा दिखाने का दिन रात प्रयास हो रहा है। ऐसे लोगों को शर्म आनी चाहिए। पर, उन्हें शर्म नहीं आती।' मोदी ने आगे कहा, 'ये वे लोग हैं जो वही बात करना या कहना चाहते हैं जो पाकिस्तान को बेहतर लगे। पर, हिंदुस्तान में बैठकर ऐसी बातें करना क्या सेना का अपमान नहीं है। मैं गंभीर आरोप लगा रहा हूं लेकिन यह सच है। हमारे घर के भीतर ही कुछ लोग ऐसे हैं जिनके बयानों से आतंकियों के सरपरस्तों को फायदा मिल रहा है।' पीएम मोदी ने साफ कहा कि चुनाव तो आते-जाते रहेंगे लेकिन देश के दुश्मन इसका फायदा ना उठाएं यह हम सबकी जिम्मेदारी है। पीएम ने सवालिया लहजे में पूछा, क्या यह जिम्मेदारी सिर्फ सेना की है? क्या यह हर पार्टी, हर नेता की जिम्मेदारी नहीं है? मोदी विरोध के लिए आतंक को फायदा पहुंचाना कहां तक उचित है? पीएम ने दो टूक कहा कि मोदी के विरोध के कारण हमारे राजनीतिक विरोधी जो बयान दे रहे हैं उसका फायदा आतंकी उठा रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार आतंकवाद को खत्म करना चाहती है। पीएम ने कहा, 'आपकी ताकत से ही हम आतंकवाद के खिलाफ लगातार सख्त कदम उठा रहे हैं। आतंकी अब अपना अंत सामने देख रहे हैं। यही वजह है कि अब उनकी बौखलहाट बढ़ रही है। यही वजह है कि गुरुवार को उन्होंने जम्मू में फिर आतंकी हमला करने का प्रयास किया। पर, हम मुंहतोड़ जवाब देंगे। उन्हें खत्म करके रहेंगे।' पीएम ने यह भी कहा कि यह समय सचेत और एक साथ रहने का है। उन्होंने कहा कि आतंक को तभी हम खत्म कर सकते हैं जब हम सभी एक साथ हों। हमारे बीच एकता और आपसी सद्भाव हो ताकि कोई भ्रम पैदा ना करने पाए।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.