• संवाददाता

24 घंटे में चौथी बार ताज के ऊपर मंडराया ड्रोन, केस दर्ज


आगरा ताज महल की हवाई सीमा का गुरुवार को दूसरी बार उल्लंघन हुआ। सुबह 7:40 पर एक ड्रोन ताज के ऊपर मंडराता दिखा और आधे घंटे बाद फिर आया। 24 घंटे में ताज के ऊपर ड्रोन दिखने की यह दूसरी घटना है। इससे पहले बुधवार को भी एक सुरक्षाकर्मी ने सुबह करीब 11 बजे ड्रोन देखा था। बुधवार शाम 4 बजे फिर एक ड्रोन दिखा था। सुरक्षा एजेंसियां कुछ कर पातीं उससे पहले ही वह चला गया। बताया जा रहा है कि ड्रोन करीब एक किमी की ऊंचाई पर उड़ रहा था। ताज महल में एएसआई की ओर से तैनात संरक्षण सहायक अंकित नामदेव ने इस घटना के बारे में सीओ (ताज सुरक्षा) को बताया है और शिकायत के आधार पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी 188 (सरकारी सेवक के वैधानिक आदेश की अवहेलना) के तहत केस दर्ज किया गया है। अभी तक ड्रोन के मालिक का पता नहीं चल पाया है। सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने भी माना कि 24 घंटे में चार बार ऐसी घटना होना हमारे लिए चुनौती है। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही वे ड्रोन के मालिक के पास करीब होंगे।

जिला प्रशासन ने लगा रखी है ताज के आसपास ड्रोन उड़ाने पर रोक बता दें कि ताज महल के अंदर और आसपास ड्रोन का उपयोग पूरी तरह प्रतिबंधित है। फरवरी 2017 में जिला प्रशासन ने इस संबंध में आदेश जारी किए थे। इसकी जिम्मेदारी ताज के आसपास बने होटलों पर डाली गई थी और उन्हें साफ निर्देश दिए गए थे कि वे अपने यहां आने वाले टूरिस्ट को बताएं कि ताज के आसपास ड्रोन का इस्तेमाल प्रतिबंधित है। हालांकि आदेश के बावजूद पिछले दो साल में ड्रोन उड़ाने के 25 मामले सामने आ चुके हैं। पिछले साल अक्टूबर में एक चीनी यात्री अपने ड्रोन को इमारत के रॉयल गेट तक ले आया था। जब सीआईएसएफ ने उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि उसे हिंदी और अंग्रेजी में लिखे निर्देश समझ में नहीं आए थे। उसने इसके लिए माफी मांगी और कहा कि उसने जानबूझकर ऐसा नहीं किया है।


2 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.