• संवाददाता

मीडिया पर भड़कीं मायावती, भतीजे आकाश को BSP मूवमेंट में शामिल करने का ऐलान


नई दिल्ली अपने भतीजे को विरासत सौंपने को लेकर मीडिया में आई खबरों पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने कुछ टीवी चैनलों की दलित विरोधी मानसिकता को इन खबरों के लिए जिम्मेदार ठहराया। कुछ मीडिया समूहों को चेतावनी देते हुए मायावती ने कहा कि अगर मीडिया के जातिवादी और दलित विरोधी एक तबके को आपत्ति है तो रहे, हमारी पार्टी को इसकी चिंता नहीं है। उन्होंने कहा, 'मैं कांशीराम की चेली हूं और उनकी तरह जैसे को तैसा जवाब देना जानती हूं।' इसी दौरान उन्होंने ऐलान कर दिया कि वह अपने भतीजे आकाश को BSP मूवमेंट में शामिल करेंगी और उसे सीखने का अवसर प्रदान करेंगी। मायावती ने कहा, 'बीएसपी की बढ़ती लोकप्रियता और एसपी के साथ गठबंधन ने दलित विरोधी पार्टियों और जातिवादी नेताओं में खलबली मचा दी है। वे लोग हमसे सीधी राजनीतिक लड़ाई लड़ने के बजाए हमारे खिलाफ अनर्गल बयान दे रहे हैं। दलित विरोधी मानसिकता रखने वाले टीवी चैनलों के साथ षड्यंत्र करके शरारती खबरें भी दिखाना शुरू कर दिए हैं ताकी पार्टी और उसके सर्वोच्च नेतृत्व को बदनाम किया जा सके।'

'गरीब ज्यादा केक खाए तो लूट बता दिया' बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि गरीबों के द्वारा ज्यादा केक खाने को लूट बताकर बदनाम किया गया। इसी प्रकार छोटे भाई के बेटे आकाश आनंद को लखनऊ में मेरे साथ पार्टी में शामिल रहने को लेकर मेरे उत्तराधिकारी के तौर पर पेश करना- यह सब बीएसपी विरोधी षड्यंत्र हैं। इसी प्रकार कुछ मीडिया द्वारा साजिश के तहत चरित्र हनन का आरोप लगाने का प्रयास भी किया गया है। उन्होंने एक चैनल का नाम भी लिया। उन्होंने कहा, 'नौजवान भतीजे आकाश को जानबूझकर विवाद में घेरा जा रहा है। मेरे छोटे भाई आनंद और उनके परिवार ने 2003 के बाद से लगातार 24 घंटे हमारा हर पल साथ दिया है इसलिए पार्टी के अधिकांश लोगों की सलाह पर मैंने कुछ समय पहले गैरराजनीतिक कार्यों के लिए उसे पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया था। हालांकि परिवारवाद का आरोप न लगे इसलिए आनंद ने खुद ही पद छोड़ दिया। उनके इस कदम को काफी सराहा गया। अब उनका परिवार पहले से भी ज्यादा तत्परता से बीएसपी मूवमेंट के लिए समर्पित है।'

'हम दब्बू किस्म के लोग नहीं हैं...' BSP चीफ ने कहा, 'मेरे जन्मदिन पर आनंद के बेटे आकाश की मौजूदगी को लेकर संकीर्ण व जातिवादी मानसिकता रखने वाले कुछ मीडिया समूह सस्ती और राजनीतिक षडयंत्र रच रहे हैं।' चेतावनी भरे लहजे में माया ने कहा, 'हम दब्बू किस्म के लोग नहीं हैं, जो सुनकर बैठ जाएंगे, घबरा जाएंगे। उसका मुंहतोड़ जवाब देना भी हमें आता है।' कांशीराम का नाम लेकर उन्होंने कहा, 'मैं मीडिया को उनकी तरह ही मुंहतोड़ जवाब दूंगी इसीलिए अब मैं आकाश को बीएसपी मूवमेंट से जरूर जोडू़ंगी और उसे आगे बढ़ाऊंगी।' मायावती ने कहा कि मैं उसे सीखने का अवसर प्रदान करूंगी।

'चप्पल को लेकर भी घिनौना षड्यंत्र' उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि जातिवादी मीडिया को अगर तकलीफ होती है तो हो। यही मीडिया दूसरी पार्टियों में परिवारवाद को लेकर अपनी आंखें क्यों मूंद लेता है। उन्होंने कहा कि पहले मीडिया ने मेरे चप्पल आदि को लेकर काफी घिनौना षड्यंत्र रचा था। इसी तरह मीडिया के लोग अब आकाश की चप्पलों की कीमतें ऐसे बता रहे हैं जैसे उन्होंने ही इसे खरीद कर दिया हो।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.