• संवाददाता

'चौकीदार' के पीछे लगी है 'चोरों की जमात'-पीएम मोदी


बारीपदा, ओडिशा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ओडिशा में बारीपदा की रैली में कांग्रेस के साथ-साथ राज्य की नवीन पटनायक सरकार पर तीखे हमले बोले। पीएम ने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान पीएमओ की फाइलों तक बिचौलियों की पहुंच थी। वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले के बिचौलिये क्रिस्चन मिशेल के बहाने कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि समझ नहीं आता कि कांग्रेस ने सरकार चलाई है या अपने मिशेल मामा का दरबार चलाया है। पीएम ने कहा कि हमारी सरकार देश की सेनाओं को साजिश के जाल से बाहर निकाल रही है, इसीलिए वह उनको (कांग्रेस) कांटे की तरह चुभ रहा है। उन्होंने कहा कि यही वजह है कि 'चोरों की जमात' 'चौकीदार' को रास्ते से हटाना चाहती है। वह मयूरभंज जिले के बारीपदा में करोड़ों के इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट्स की शुरुआत के बाद रैली में बोल रहे थे।

'UPA के दौरान सेना को कमजोर करने की रची गई साजिश' कांग्रेस पर अपनी सरकार के दौरान सेना को कमजोर करने की साजिश का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, '2004 से लेकर 2014 के बीच कैसे देश की सेना को कमजोर करने की साजिश रची गई। अब यह देश देख भी रहा है और उसकी हर बारीकी को समझ भी रहा है। अब जब हमारी सरकार उनकी साजिश के जाल से देश की सेनाओं को बाहर निकाल रही है, तो हम उन्हें कांटे की तरह चुभने लगे हैं, खटकने लगे हैं। वे किसी भी कीमत पर चौकीदार को रास्ते से हटा देना चाहते हैं। चोरों की जमात कहीं पर भी सबसे पहले चौकीदार को हटाने का ही षडयंत्र करते हैं क्योंकि जबतक चौकीदार है, उनकी दाल गलती नहीं है।'

'पीएम से ज्यादा बिचौलिये मिशेल को थी जानकारी' क्रिस्चन मिशेल को कांग्रेस का राजदार बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनको (कांग्रेस) यह सच्चाई इसलिए भी खटक रही है क्योंकि इनके राज खुल रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, 'कल ही रिपोर्ट आई थी हेलिकॉप्टर घोटाले के बिचौलिये और कांग्रेस के घोटालों के राजदार मिशेल की चिट्ठी से खुलासा हुआ है। उसके कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से गहरी पहचान थी, साथ उठना-बैठना था। पीएमओ में कौन सी फाइल कहां जा रही है, उसको इसकी पल-पल की जानकारी थी। संभवतः जितनी जानकारी खुद प्रधानमंत्री को नहीं थी, उससे ज्यादा जानकारी उस जमाने में बिचौलियो को रहती थी। '

'कांग्रेस ने सरकार चलाई है या मिशेल मामा का दरबार' मोदी ने आगे कहा, 'कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्यॉरिटी की बैठकों की भी पूरी जानकारी उस तक पहुंचती थी। इस जानकारी को वह विदेशों तक पहुंचाता था। कब कौन क्या फैसला ले रहा था, इसकी जानकारी वह विदेश भेज रहा था। समझ नहीं आता कि कांग्रेस ने सरकार चलाई है या अपने मिशेल मामा का दरबार चलाया है।

'कानून किसी को नहीं छोड़ेगा' प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बिचौलियों के हितों की रक्षा में जिस-जिसकी भूमिका रही है, उसका हिसाब एजेंसियां करेंगी, देश की जनता करेगी। उन्होंने कहा, केंद्र की सरकार देश की सुरक्षा के लिए निरंतर बड़े और कड़े फैसले ले रही है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि कानून किसी को नहीं छोड़ेगा।' प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को राफेल मुद्दे पर संसद में दिए गए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के भाषण की भी तारीफ की और उन्होंने इसके लिए उन्हें बधाई दी।

वंदेमातरम् विवाद पर कांग्रेस का हमला प्रधानमंत्री में रैली के दौरान लोगों से भारत माता की जय और वंदेमातरम् के नारे लगवाने के बाद मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर भी हमला बोला। मोदी ने कहा, 'कुछ लोग कहते हैं कि मोदी भारत मां की जय से लोगों का अभिवादन क्यों करता है। अभी मध्य प्रदेश में नई-नई सरकार बनी है, उन्हें स्पष्ट बहुमत भी नहीं मिला है। उनकी प्राथमिकता देखिए कि कांग्रेस सरकार ने आते ही वंदेमातरम पर हल्ला बोल दिया। तूफान मच गया। अब रास्ता खोज रहे हैं बचने के लिए। दूसरा काम किया कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए इमर्जेंसी में लड़ने वाले लोगों का पेंशन खत्म करने जा रही है। लेकिन बीजेपी ने लोगों के मुद्दे को धार दी। पहले उन्हें वंदेमातरम पर फैसले से पीछे हटना पड़ा और अब इमर्जेंसी सेनानियों की पेंशन भी बहाल करनी पड़ेगी।'

ओडिशा सरकार पर भी बोला हमला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिला सशक्तीकरण के मुद्दे पर ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार को भी घेरा। उन्होंने आरोप लगाया कि महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए केंद्र सरकार जो कुछ भी कर रही है, उसका लाभ ओडिशा को नहीं मिल रहा है। पीएम ने कहा कि पटनायक के शासन के दौरान ओडिशा महिला सशक्तीकरण के मामले में पीछे चला गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ओडिशा की सरकार का बेटियों के स्वास्थ्य को लेकर भी ट्रैक रेकॉर्ड अच्छा नहीं हैं।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.