• संवाददाता

पीएम ने कहा, 'हमें लोगों को कांग्रेस और उसके खतरनाक खेल के बारे में लोगों को जानकारी देते रहना च


नई दिल्ली पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर सिलसिलेवार हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस ने लोकतंत्र के लिए जरूरी संस्थाओं को लगातार अपमानित किया है। पीएम ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट, सीएजी जैसी संस्थाओं को भी नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का डीएनए अभी भी वैसा ही है। जब जीतते हैं तो कहते हैं ईवीएम ठीक है और नतीजे से पहले उसी ईवीएम पर संदेह भी पैदा कर देते हैं। पीएम ने आज तमिलनाडु के बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, 'हमें लोगों को कांग्रेस और उसके खतरनाक खेल के बारे में लोगों को जानकारी देते रहना चाहिए।' पीएम ने ईवीएम विवाद पर भी कांग्रेस पर निशाना साधा। मोदी ने कहा, 'किसी भी चुनाव से पहले वे (कांग्रेस) ईवीएम को लेकर विवाद खड़ा कर देते हैं, संदेह का माहौल बनाने की कोशिश करते हैं। हालांकि नतीजे आने के बाद, यदि परिणाम कांग्रेस के पक्ष में आएं तो वे उन्हीं नतीजों को स्वीकार कर लेते हैं, जो उसी ईवीएम से आए हैं।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जबरदस्त हमला बोला है। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के गैर-लोकतंत्रिक व्यवहार का सबसे बेहतर जवाब यह है कि लोकतंत्र को मजबूत किया जाए। जानकारी और सजगता लोकतंत्र के लिए बेहद महत्वपूर्ण है।' प्रधानमंत्री ने कहा, 'उन्होंने (कांग्रेस) आर्मी, सीएजी और उस संस्था को अपमानित किया, जो लोकतंत्र के लिए जरूरी है। हाल ही में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले पर सवाल खड़े किए क्योंकि उन्हें फैसला पसंद नहीं आया। इससे पहले वे कोर्ट को धमकाकर अपनी मनमर्जी नहीं करा पाए थे उन्होंने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के खिलाफ महाभियोग लाने का प्रयास किया।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस के लोग लोकतंत्र की रक्षा करने वाले लोग हैं। पिछली बार जब कांग्रेस ने लोकतंत्र को चुनौती देने की कोशिश की तो जनता ने तय किया और उन्हें रोका। पीएम ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे आम जनता के बीच में जाएं और उन्हें बताएं कि कांग्रेस का डीएनए अभी वैसा ही है। पीएम ने कार्यकर्ताओं से केंद्र सरकार की तरफ से चलाई जा रही योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी देने को कहा है। पीएम ने कहा, 'लोगों को बताएं कि केंद्र सरकार लोगों की भलाई के लिए काम कर रही है।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.