• shiv vardhan singh

शाह आलम खान के परिवार की बहू बनेंगी असदुद्दीन ओवैसी की बेटी कुदसिया


हैदराबाद आने वाली 28 दिसंबर को दो पारंपरिक हैदराबादी परिवार हमेशा के लिए शादी के रिश्ते में बंध जाएंगे। दरअसल, आलम खान और ओवैसी परिवार पीढ़ियों से एक-दूसरे के दोस्त रहे हैं लेकिन शादी के साथ ही हैदराबाद के इन परिवारों के बीच एक नए अध्याय की शुरुआत होगी। बता दें कि आलम खान का नाम हैदराबाद के जाने-माने उद्योगपतियों में शुमार है तो ओवैसी बंधुओं ने हैदराबाद की राजनीति को नई दिशा दी है। दोनों ही परिवार हैदराबाद की संस्कृति और तहजीब को पेश करते हैं। हैदराबाद से सांसद और एआईएमआईएम अध्यक्ष असुद्दीन ओवैसी की बेटी कुदसिया ओवैसी-नवाब बरकत आलम खान की शादी की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। बता दें कि बरकत, नवाब अहमद आलम खान के बेटे और नवाब शाह आलम के पोते हैं। बरकत ने पोस्ट ग्रैजुएट किया है और वह अपने परिवार का ही व्यापार संभालते हैं। नवाब शाह आलम खान का नाम हैदराबाद में काफी चर्चित है। लोग उन्हें उनके परोपकार की वजह से धन्यवाद देते हैं क्योंकि आलम खान ने अल्पसंख्यकों के शैक्षणिक उत्थान की दिशा में काफी काम किया। हैदराबाद डेक्कन सिगरेट फैक्ट्री की गोलकोंडा सिगरेट हैदराबाद का एक चर्चित ब्रैंड रहा। यह फैक्ट्री शाह आलम के द्वारा ही संचालित की जाती थी। आलम खान कई सारे शैक्षणिक संस्थान संचालित करते हैं, जिसमें अनवरुल उलूम कॉलेज काफी चर्चित भी रहा है। यह परिवार हैदराबाद की पाक कला के लिए भी जाना जाता है। शाह आलम खान के बड़े बेटे और बरकत के चाचा नवाब महबूब आलम खान पाक व्यंजनों में मास्टर शेफ माने जाते हैं। उन्हें हैदराबाद से लगभग खो चुके, कुतुब शाही और असफ शाही व्यंजनों को पुनर्जीवित करने का श्रेय भी दिया जाता है। बताते चलें कि महबूब आलम खान टीआरएस यानी तेलंगाना राष्ट्र समिति से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं, पिछले हफ्ते असदुद्दीन ओवैसी बरकत और अहमद को लेकर मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के पास उन्हें न्योता देने भी पहुंचे थे।


1 व्यू

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.