• संवाददाता

श्री लंका संसद में भारी हंगामा, राष्ट्रपति सिरिसेना और उनके समर्थकों ने स्पीकर को घेरा


कोलंबो श्री लंका की संसद में विश्वास मत हार चुके प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे मौजूदा संकट को हल करने के लिए चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं। इसे लेकर गुरुवार को संसद में जोरदार हंगामा हुआ। महिंदा राजपक्षे और उनके समर्थक सांसदों ने आसन पर बैठे स्पीकर को घेर लिया। संसद में हंगामे की स्थिति तब शुरू हुई जब स्पीकर कारू जयसूर्या ने अपदस्थ प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के दल यूनाइटेड नैशनल पार्टी (यूएनपी) का यह अनुरोध स्वीकार कर लिया कि राजपक्षे की नए चुनाव की मांग पर सदन का मत ले लिए जाए। जयसूर्या ने राजपक्षे को बतौर संसद सदस्य उक्त बयान देने की अनुमति यह कहते हुए दी कि वह श्री लंका फ्रीडम पार्टी (एसएलएफपी) के नेता के दावे को अनुमति नहीं देते जो कि बुधवार को हुए अविश्वास प्रस्ताव की बाधा पार नहीं कर सके। राजपक्षे ने कहा, 'मैं राष्ट्रपति और राष्ट्र प्रमुख रहा हूं, इसलिए यह प्रधानमंत्री का पद मेरे लिए मायने नहीं रखता।' राजपक्षे ने मौजूदा राजनीतिक संकट को हल करने के लिए नए चुनाव करवाने को सर्वश्रेष्ठ तरीका बताते हुए कहा, 'मैं सभी 225 सदस्यों से आग्रह करता हूं कि वे नए चुनाव करवाने के लिए मेरा समर्थन करें। हम नए चुनाव चाहते हैं।' यूएनपी के सांसद लक्ष्मण किरील्ला के इस पर आपत्ति उठाने के बाद राजपक्षे और सिरिसेना समर्थक जयसूर्या के आसन के पास पहुंच गए। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि स्पीकर के आसन के पास कुछ चीजें फेंकी गईं और कम से कम एक सांसद को चैम्बर से बाहर आते देखा गया जिनका खून बह रहा था। आधे घंटे तक हंगामा चलने के बाद स्पीकर ने सदन की बैठक को स्थगित कर दिया।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.