• संवाददाता

बौखलाए पाकिस्तान ने आरएसएस और योगी आदित्यनाथ का नाम यूएन में उछाला


नई दिल्ली आतंक के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा लताड़े जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधने की कोशिश की है। यूएन में पाकिस्तान के राजदूत साद वराईच ने रविवार को कहा, 'आज के असहिष्णु भारत में असहमति के लिए कोई जगह नहीं है।' साद ने आरएसएस पर फासीवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।

पाक राजदूत ने 'राइट टु रिप्लाई' के तहत जवाब देते हुए कहा, 'आरएसएस हमारे क्षेत्र में आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला फासीवाद का केंद्र हैं।' साद ने यह भी कहा कि भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एक अतिवादी हिंदू हैं, जो खुले तौर पर सिर्फ हिंदुत्व को बढ़ावा देते हैं। उन्होंने कहा, 'भारत के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य मुस्लिम और ईसाइयों की हिंदुओं द्वारा लिंचिंग की जाती है, वहीं योगी आदित्यनाथ इन घटनाओं का समर्थन करते हैं।' "भारत के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य मुस्लिम और ईसाइयों की हिंदुओं द्वारा लिंचिंग की जाती है, वहीं योगी आदित्यनाथ इन घटनाओं का समर्थन करते हैं।" -साद वराईच, यूएन में पाक के राजदूत

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का नाम लिए बगैर साद ने कहा कि असम में रह रहे बंगाली अचानक से 'बेघर' हो गए हैं और उन्हें भारत के एक सीनियर नेता इन लोगों को 'दीमक' कहकर बुलाते हैं। साद ने कहा कि जहां चर्च और मस्जिदें जलाई जाती हैं, उन्हें दूसरों को कुछ भी कहने का अधिकार नहीं है।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 73वें सत्र में शनिवार को भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को जमकर लताड़ लगाई थी। अपने संबोधन में सुषमा ने कहा कि पाक ऐसा पड़ोसी देश है, जिसे आतंकवाद फैलाने के साथ-साथ अपने किए को नकारने में भी महारथ हासिल है। पाकिस्तान को आतंकवादियों की सुरक्षित पनाहगाह बताते हुए सुषमा ने कहा कि 26/11 का मास्टरमाइंड हाफिज सईद अबतक खुला घूम रहा है।

वहीं इसके बाद राइट टु रिप्लाई के तहत संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन की सेक्रटरी इनम गंभीर ने रविवार को पाक पर अटैक करते हुए कहा कि वह अब भी अपने पुराने ढर्रे पर ही कायम है। उन्होंने कहा कि हम यहां नए पाकिस्तान को सुनने आए थे, लेकिन वह अब भी अपने पुराने ढांचे से नहीं निकल सका है। गंभीर ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद के शैतान पैदा करने से बाज आना चाहिए और उससे परे देखना चाहिए। इन शैतानों को उसने पड़ोसी देशों को नुकसान पहुंचाने के लिए पैदा किया है।

पाकिस्तान में भारत की ओर से आतंकवाद प्रायोजित करने के आरोप का खंडन करते हुए इनम ने कहा कि उसके आरोप आधारहीन हैं। कुरैशी ने अपने भाषण में आरोप लगाते हुए कहा था कि 2014 में पेशावर स्कूल पर हुए आतंकी हमले में भारत का कथित तौर पर हाथ था।


1 व्यू

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.