• संवाददाता,मुंबई

प्रफुल्ल पटेल बोले- राफेल पर तथ्य एकदम साफ हैं, NCP से तारिक अनवर का इस्तीफा


मुंबई नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के महासचिव और बिहार के कटिहार से सांसद तारिक अनवर द्वारा पार्टी का दामन छोड़ दिया। उन्होंने लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया। तारिक अनवर के इस कदम के पीछे वजह पार्टी अध्यक्ष शरद पवार के राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में बयान को बताया जा रहा है। तारिक अनवर के इस्तीफे के बाद एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा, '...एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू को आधार बनाकर यह कदम उठाना आश्चर्यजनक है जबकि राफेल को लेकर तथ्य एकदम साफ हैं।' तारिक अनवर द्वारा पार्टी से इस्तीफा दिए जाने के बाद एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा, 'यह दिन हमारे लिए दुखद है कि हमारे वरिष्ठ सहयोगी ने लोकसभा के साथ-साथ एनसीपी छोड़ने का फैसला किया है। यह बहुत आश्चर्यजनक भी है क्योंकि उन्होंने शरद पवार द्वारा एक न्यूज चैनल को दिए गए इंटरव्यू को आधार बनाकर यह फैसला किया जबकि राफेल को लेकर तथ्य एकदम साफ हैं।' कौन हैं तारिक अनवर? तारिक अनवर एनसीपी के बड़े नेताओं में से एक थे और उनका इस तरह इस्तीफा देना पार्टी के लिए झटका है। वह बिहार की कटिहार सीट से कई बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं। तारिक अनवर एनसीपी के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। हालांकि सियासत की शुरुआत उन्होंने कांग्रेस पार्टी से की थी। 1980 में वह पहली बार कटिहार लोकसभा से निर्वाचित हुए थे। वह भारतीय यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर भी रहे। सोनिया गांधी के विदेशी मूल के मुद्दे पर शरद पवार का साथ देते हुए 1999 में तारिक ने कांग्रेस छोड़ दी थी। शरद पवार, पीए संगमा और तारिक अनवर ने मिलकर एनसीपी की नींव रखी थी। यूपीए-2 के कार्यकाल में उन्हें कृषि और खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री नियुक्त किया गया था।

इस इंटरव्यू से हुआ था विवाद गौरतलब है कि एक मराठी समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में एनसीपी मुखिया शरद पवार ने कहा था कि उन्हें नहीं लगता कि लोगों को राफेल सौदे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा पर कोई शक है। पवार ने कहा था कि विमान से जुड़ी तकनीकी जानकारियां साझा करने की विपक्ष की मांग में 'कोई तुक नहीं है।' हालांकि, उन्होंने कहा था कि विमान के दामों का खुलासा करने में कोई नुकसान नहीं है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इसके लिए ट्वीट कर पवार को धन्यवाद तक दिया था।


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.