• संवाददाता

तेलंगाना हॉरर किलिंग: फिल्‍म दृश्‍यम की तरह पुलिस को चकमा देना चाहता था आरोपी पिता


हैदराबाद तेलंगाना के नालगोंडा में झूठी शान के नाम पर 23 वर्षीय युवक प्रणय की हत्या के मामले में अब एक नया खुलासा हुआ है। पुलिस जांच में पता चला है कि इस हॉरर किलिंग के मुख्‍य आरोपी लड़की के पिता ने तेलुगू फिल्‍म दृश्‍यम की तरह पुलिस को चकमा देने के लिए यह दर्शाने की कोशिश की कि वह अपने दामाद की हत्‍या के समय घटनास्‍थल पर मौजूद नहीं था। यही नहीं, इस हत्‍याकांड में उसकी कोई भूमिका भी नहीं है। फिल्‍म दृश्‍यम में अभिनेता वेंकटेश ने अपनी बेटी के साथ हुए अन्‍याय का बदला लेने के लिए कुछ इसी तरह का प्रयास किया था। नलगोंडा के एसपी एवी रंगनाथ ने कहा, 'आरोपी मूर्ति राव ने फिल्‍म दृश्‍यम की तरह खुद को निर्दोष दिखाने का प्रयास किया। 14 सितंबर को हत्‍या के दिन अपराध के दो घंटे पहले वह नलगोंडा में जॉइंट कलेक्‍टर के ऑफिस गया और अधिकारियों से मिला ताकि यह साबित किया जा सके कि उसका इस हत्‍याकांड में कोई रोल नहीं है।'

फेल हो गया चकमा देने का दांव रंगनाथ ने कहा, 'उसी दिन जब वह नलगोंडा जाने का प्रयास कर रहा था, उसी समय मूर्ति ने जिले के डेप्‍युटी एसपी और आरडीओ को देखा तथा गाड़ी से उतरकर उसने गणेश महोत्‍सव के बारे में जानकारी ली। चकमा देकर खुद के घटनास्‍थल पर मौजूद न रहने का उसका दावा निरर्थक साबित हुआ क्‍योंकि हमने टेक्निकल तथा अन्‍य साक्ष्‍य इकट्ठा कर लिए हैं। इससे साबित हो जाएगा कि इस हॉरर किलिंग में मूर्ति का हाथ था।'

पुलिस ने बताया कि मूर्ति ने हत्‍या की साजिश के बारे में अपनी पत्‍नी को भी नहीं बताया था। रंगनाथ ने कहा, 'मूर्ति राव ने पत्‍नी का इस्‍तेमाल प्रणय और अमृता वार्षिणी की गतिविधियों के बारे में जानने के लिए किया। अमृता वार्षिणी के गर्भवती होने के बाद उसकी मां अक्‍सर बात करती थी। 13 सितंबर को अमृता ने बताया कि वह शनिवार 14 सितंबर को चेक अप के लिए हॉस्पिटल जा रही है। अमूर्ता की मां ने इसकी जानकारी मूर्ति को दे दी। हालांकि उन्‍हें इस बात का एहसास नहीं था कि मूर्ति इस तरह का कदम उठा सकता है।'

एक करोड़ रुपये की सुपारी ली? उन्‍होंने बताया कि मूर्ति ने इसकी सूचना अब्‍दुल बारी को दे दी। बारी ने इसकी जानकारी असगर अली और असगर ने इसकी सूचना सुभाष को दे दी थी। मूर्ति ने अपनी बेटी को इस बात का अहसास कराया कि उन्‍हें उसकी शादी से कोई दिक्‍कत नहीं है। इसके बाद उसने हत्‍या की साजिश रची। रंगनाथ ने पत्रकारों को बताया कि अमृता के पिता मूर्ति राव भी गिरफ्तार लोगों में शामिल है। यह एक करोड़ रुपये की सुपारी लेकर हत्या करने का मामला लग रहा है।

अमृता ने अपने पिता और चाचा श्रवण को पति की हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने बताया कि अपनी बेटी की शादी का विरोध करने वाले मूर्ति राव ने कुमार को खत्म करने के लिए अन्य आरोपियों के साथ मिलकर साजिश रची और उन्हें अग्रिम राशि के तौर पर 15 लाख रुपये भी दिए। घटना का स्तब्ध कर देने वाला सीसीटीवी फुटेज राष्ट्रीय टेलीविजन पर दिखाया गया, जिसमें पेरुमल प्रणय कुमार अपनी गर्भवती पत्नी अमृता वर्षिणी के साथ एक अस्पताल से बाहर निकल रहा है तभी हमलावर ने एक धारदार हथियार से पीछे से उस पर हमला किया।

मौके पर ही प्रणय की मौत इससे मौके पर ही प्रणय की मौत हो गई। हमलावर की पहचान सुभाष कुमार शर्मा के रूप में की गई है। ऊंची जाति की अमृता ने सोमवार को दावा किया था कि उसके पिता और चाचा इस हमले के पीछे हैं क्योंकि वे एक दलित ईसाई व्यक्ति से उसके शादी करने के विरोध में थे। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रणय पर हमला करने वाले शर्मा को बिहार के समस्तीपुर से पकड़ा गया और उसे ट्रांजिट वारंट पर नालगोंडा लाया जा रहा है।


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.