• सौरभ चटर्जी,लखनऊ

सवर्णों का भारत बंद: सीएम योगी बोले, 'कोई मतलब नहीं'


लखनऊ एससी-एसटी कानून के विरोध में सवर्ण समुदायों के राष्ट्रव्यापी बंद के आह्वान पर प्रदेश में गुरुवार को आम जनजीवन लगभग सामान्य रहा। गुरुवार दोपहर तक कहीं से किसी अप्रिय घटना की कोई सूचना नहीं है। वहीं गोंडा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एससी-एसटी कानून के विरोध में बंद पर कहा कि भारत बंद का कोई मतलब नहीं है, लोगों की अपनी भावनाएं हैं, लोकतंत्र में हर व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है। मुख्यमंत्री योगी गोंडा जिले के उमरी बेगमगंज में बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस देश के प्रत्येक व्यक्ति की सुरक्षा, खुशहाली और समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा, 'हमने जाति एवं धर्म के आधार पर कभी राजनीति नहीं की। समाज के दबे-कुचले लोगों को संरक्षण देने के लिए यह कानून बनाया है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि इसका किसी भी तरह से दुरुपयोग न हो।' इससे पहले जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी सरकार ने नाव पलटने, सर्प दंश, बोर बेल में गिरने, सीवेज सफाई के दौरान, जंगली जानवरों के हमले के दौरान मौत होने पर भी चार लाख रुपये की तत्काल सहायता देने का निर्णय लिया है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मांग पर सीएम योगी ने विस्तृत विचार-विमर्श के उपरांत विकास कार्य कराए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार किसी क्षेत्र को उपेक्षित नहीं रहने देगी। मऊ, बलिया और सोनभद्र से मिली जानकारी के अनुसार जिलों में कुछ स्थानों पर दुकानें आदि बंद रहीं लेकिन कहीं से किसी अप्रिय घटना की जानकारी नहीं है।


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.