• संवाददाता, दिल्ली

नोटबंदी, राफेल डील पर राहुल गांधी का बड़ा हमला, कहा- पीएम के दोस्तों ने कालेधन को सफेद बनाया


नई दिल्ली कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी और राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। राहुल गांधी ने नोटबंदी के बाद आरबीआई द्वारा जारी आंकड़ों का हवाला देकर कहा कि नोटबंदी जानबूझकर गरीबों के पैर में मारी गई कुल्हाड़ी थी। राहुल ने कहा कि पीएम ने अपने 15-20 उद्योगपति दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए देश के युवाओं, महिलाओं, किसानों और छोटे व्यवसायियों की जेब से पैसा निकाल उन्हें दे दिया। राहुल ने कहा कि राफेल डील पर जेटली उनसे सवाल पूछ रहे हैं जबकि संयुक्त संसदीय समिति बनाने पर चुप हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि देश जानना चाहता है कि मोदी और अनिल अंबानी में क्या डील हुई।

राहुल ने पूछा, नोटबंदी की चोट क्यों लगाई? राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी के दौरान पीएम ने घोषणा की थी कि कालाधन, टेरर फंडिंग और जाली नोट की समस्या का अंत हो जाएगा। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। राहुल ने कहा, 'मैं हिंदुस्तान के युवाओं, छोटे व्यवसायियों को बताना चाहता हूं कि पीएम ने नोटबंदी क्यों की। उनके सबसे बड़े 15-20 उद्योगपतियों के पास नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स थे। नरेंद्र मोदी ने देश की जनता का पैसा लेकर सीधा हिंदुस्तान के सबसे बड़े क्रोनिक कैपटलिस्ट की जेब में डाला।'

'नोटबंदी गलती नहीं, ये जानबूझकर गरीबों पर मारी गई कुल्हाड़ी' राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी बड़े व्यवसायियों को रास्ता देने का तरीका थी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी गलती से नहीं की। उन्होंने जानबूझकर ऐसा किया। हिंदुस्तान के उन उद्योगपतियों जिन्होंने उन्हें मार्केटिंग के लिए पैसा दिया, उनको फायदा पहुंचाने के लिए किए किया। अरुण जेटली और पीएम मोदी ने मिलकर देश की इकॉनमी को बर्बाद कर दिया।'

'मोदी के दोस्तों ने कालेधन को सफेद बनाया' राहुल गांधी ने कहा कि हमारे समय पीएम मनमोहन सिंह ने देश चालकर दिखाया था। राहुल ने कहा, 'यूपीए के समय एनपीए ढाई लाख करोड़ रुपये था, आज 12 लाख करोड़ एनपीए है। क्योंकि मोदी ने अपने मित्रों की रक्षा की है।' राहुल ने सीधे मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर हमला बोलते हुए कहा, 'नोटबंदी के समय मोदी जी के मित्रों ने कालेधन को सफेद धन में बदलने का काम किया। अमित शाह जिस बैंक में डायरेक्टर हैं, 700 करोड़ रुपया उस बैंक में बदला गया। इसे जुमला नहीं, स्कैम कहा जा सकता है। मोदी ठीक बोलते हैं कि जो 70 साल में कोई नहीं कर पाया, पीएम ने उसपर निर्णय लिया और देश की इकॉनमी की धज्जियां उड़ा दीं।'

'अनिल अंबानी के मानहानि केस से सच नहीं बदल जाएगा' राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि अनिल अंबानी हर जिले में कांग्रेस के नेताओं पर मानहानि मुकदमा कर रहे हैं, लेकिन इससे सच्चाई नहीं बदलती। राहुल गांधी ने कहा, 'अरुण जेटली लंबे-लंबे ब्लॉग लिख रहे हैं लेकिन संयुक्त संसदीय समिति के बारे में कुछ नहीं कह रहे। मुझे लगता है कि अरुण जेटली फंस गए हैं क्योंकि आदेश तो पीएम मोदी को ही देना है।'

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'राफेल का मामला बिल्कुल स्पष्ट है। अनिल अंबानी ने हवाई जहाज कभी नहीं बनाया। वह 45 हजार करोड़ के कर्ज में हैं। उन्होंने कॉन्ट्रैक्ट मिलने से कुछ दिन पहले ही कंपनी खोली। दूसरी तरफ एचएएल जो 70 सालों से हवाई जहाज बना रही है। कोई कर्जा नहीं है। पहला सवाल जो हवाई जहाज 520 करोड़ का था उसे 1600 करोड़ रुपये में किसे फायदा पहुंचाने के लिए किया। पूरा देश जानना चाहता है कि अनिल अंबानी और मोदी ने क्या डील की है।'


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.