• शिव वर्धन सिंह

रुपये में गिरावट पर सरकार बोली- चिंता की कोई बात नहीं


नई दिल्ली डॉलर के मुकाबले रुपये की वैल्यू में लगातार गिरावट के बीच केंद्र सरकार की तरफ से डैमेज कंट्रोल की कोशिशें शुरू हो गई हैं। वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा कि लोगों को इससे घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार का मानना है कि कुछ दिनों में रुपया फिर से मजबूती हासिल कर लेगा। सरकार का आश्वासन आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने रुपये में जारी ऐतिहासिक गिरावट पर सरकार का पक्ष रखते हुए कहा, 'स्थिति फिलहाल चिंताजनक नहीं है। यह गिरावट बाहरी कारकों की वजह से हो रही है, इसलिए आगे जाकर इसमें सुधार होने की उम्मीद है।' गर्ग का बयान ऐसा वक्त में आया है जब रुपया डॉलर के मुकाबले पहली बार 70 के पार (7.085 रुपये) पहुंच गया और कांग्रेस, आम आदमी पार्टी जैसी विपक्षी पार्टियां सरकार पर हमलावर हैं।

पहली बार 70 के निचले स्तर पर आया रुपया

विपक्ष का हमला आज लगातार दूसरे दिन हुई ऐतिहासिक गिरावट के बाद कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर कहा कि आखिरकार मोदी सरकार ने वह कर दिखाया जो 70 सालोंं में कभी नहीं हुआ था। उधर, आम आदमी पार्टी ने भी केंद्र सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अपनाते हुए ट्वीट किया, 'जनता झेल रही है मार, रुपया पहुंचा 70 के पार, अब तो जागो मोदी सरकार!'

ट्रेड वॉर और तुर्की ने बिगाड़ी रुपये की सेहत

इस वजह से लगातार गिर रहा रुपया गौरतलब है कि अमेरिका द्वारा तुर्की से मेटल इंपोर्ट पर ड्यूटी दोगुनी करने की वजह से दुनियाभर के बाजारों पर इसका असर देखा जा रहा है। पहले से ही बेहाल तुर्की की करंसी लीरा की वैल्यू में भारी गिरावट आने के बाद उभरते देशों की मुद्राओं में कमजोरी आई है, जिसकी गिरफ्त में सोमवार से ही रुपया भी आ गया। इस दिन इसमें पांच साल की सबसे बड़ी गिरावट आई। रुपया 1.58 पर्सेंट की गिरावट के साथ 68.93 के रिकॉर्ड लो लेवल पर पहुंच गया था।

RBI ने भी हाथ खड़े किए ऐसी अटकलें हैं कि बिकवाली इतनी तेज थी कि रिजर्व बैंक ने भी रुपये में कमजोरी को रोकने की कोशिश नहीं की। सोमवार देर शाम को डेरिवेटिव मार्केट में डॉलर के मुकाबले रुपया 70 का लेवल पार कर चुका था। इससे पता चलता है कि भारतीय मुद्रा में अभी बिकवाली रुकी नहीं है।


                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.