• कीर्ति देशवाल,दिल्ली

दिल्ली से अगवा बच्चा नेपाल में बचाया गया


नई दिल्ली केशवपुरम से अगवा किए गए चार साल के बच्चे को नेपाल से बरामद कर लिया गया है। दिल्ली पुलिस और नेपाल पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाकर इस बच्चे को बचाया है जिसे एक दंपती ने अप्रैल में अगवा कर लिया था। आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया गया है और बच्चे को पैरंट्स को सौंप दिया गया है। आरोपी पूनम और सोनू केशवपुरम में ही रहते थे और उनकी एक 9 साल की बेटी है। तीन साल पहले उन्होंने अपनी फैमिली को बताया था कि उन्हें एक बेटा हुआ है। पूनम स्वास्थ्य कारणों से दोबारा मां नहीं बन पा रही थी। इसलिए उन्होंने पड़ोसी के बच्चे को अगवा करने का फैसला किया ताकि उनके परिवार को सच्चाई न पता चल पाए। बच्चे को अगवा करने से 6 महीने पहले उन्होंने यह योजना बनाई थी। अपहरण की घटना 5 अप्रैल को हुई थी और परिवार ने एफआईआर दर्ज कराई थी। बच्चा अपने घर के नजदीक खेल रहा था तभी उसे अगवा कर लिया गया था। उन्होंने बच्चे को पड़ोस में ढूंढा लेकिन वह नहीं मिला। डीसीपी असलम खान ने बताया कि इस संबंध में सीसीटीवी कैमरा की मदद ली गई। अडिशनल डीसीपी ए.के.लाल के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई जिसमें इंस्पेक्टर सतविंदर राणा और एस आई राकेश दुहन शामिल थे। सीसीटीवी फुटेज में आरोपी महिला फोन पर बात कर रही थी और बच्चा उसके पीछे चल रहा था। पूनम और उसके पति उसी इलाके में रहते थे और वे गायब थे। पुलिस को पता चला कि वे यूपी के गोरखपुर और फिर महाराजगंज चले गए हैं। हालांकि, वह दंपती वहां से भी चला गया था। 17 जुलाई को पुलिस ने सनौली में छापेमारी की और दंपती के संपर्क में रह रहे रिश्तेदार को गिरफ्तार किया। उसने बताया कि यह दंपती नेपाल के दुगोलिया गांव भाग गया है। डीसीपी खान ने बताया, 'महाराजगंज जिला के स्थानीय पुलिस और नेपाल पुलिस के साथ विषय पर चर्चा की गई। उन्हें मामले की गंभीरता के बारे में बताया गया जिसके बाद वे मदद को तैयार हुए। इसके बाद उन्होंने गांव में छापेमारी की और बच्चे को बचाया गया।'


2 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.