• संवाददाता

आडवाणी ने रथ यात्रा नहीं निकाली होती तो सुलझ जाता अयोध्या विवाद: राम गोविंद चौधरी


बलिया समाजवादी पार्टी (एसपी) के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने शुक्रवार को कहा कि यदि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता लालकृष्ण आडवाणी ने रथ यात्रा नहीं निकाली होती और अयोध्या में बाबरी मस्जिद नहीं ढहाई जाती तो अब तक राम मंदिर मसले का हल निकल चुका होता। चौधरी ने बलिया में मीडिया से बातचीत में एक सवाल पर अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं होने के लिए बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, 'अयोध्या में विवादित स्थल का मसला मंदिर का ताला खुलवाये जाने और शिलान्यास कराए जाने के बाद ही हल हो गया होता और देश में शांति तथा भाईचारा बना रहता लेकिन वर्ष 1990 में उसी समय आडवाणी ने देश में रथ यात्रा निकाली और उससे फैले उन्माद की वजह से मस्जिद ढहा दी गई। इसी कारण मामला अटक गया।' चौधरी ने देश में कहीं सूखा और कहीं भारी बारिश के बारे में पूछे गए सवाल पर कहा कि इन घटनाओं के लिए बीजेपी जिम्मेदार है। उन्होंने कहा, 'भारत आस्था का देश है। एसपी भगवान राम, कृष्ण, शिव, गंगा, यमुना तथा सरयू को आस्था का केंद्र और भगवान राम को अपना इष्ट देवता मानती है लेकिन बीजेपी भगवान राम को ‘वोट देवता’ मानती है। बीजेपी भगवान राम का जिस तरह से इस्तेमाल कर रही है उससे नाराज होकर वह दैवीय आपदा के रूप में दंड दे रहे हैं। मगर इसका दर्द जनता भुगत रही है।' उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का फिलहाल कोई विचार नहीं है।


0 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.