• लेखक पंकज कुमार मिश्र

शीर्षक - कम्बोट, टोटी और अखिलेश....


भारत मे फैली भुखमरी, बेरोजगारी रोटी और कलेष लखनऊ मे मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश योगी जी ने शोर मचाया , मच गया हल्ला देशो देश लखनऊ मे मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश ,,,,,, सत्ता आये सत्ता जायें बेच रहे ईमान धरम बबुआ पुरा ही पगलाए होई गये बस बेशरम तोड़ फोड़ हमने ना कराई ये तो था बस अवशेष लखनऊ में मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश, ,,, टीवी पुछे पेपर पुछे चैनल वाले कोहराम मचाये धूप से बचने को कम्बोट, सिर पे लाद के हम ले आये कहते - कहते जब हकलाये राजनीति के उपदेश लखनऊ मे मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश,, ,,,,,, हम पर आरोप लगाने वालो कप प्लेट ऊठवाऊँगा आने दो गद्दी पर हमको जुते साफ कराऊँगा आई पी एस के सिर की टोपी मेरे पैरो की दरवेष लखनऊ मे मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश,, ,,,, "पंकज" आज के नेता गण कुछ भी असभ्य कर देते है किसे पटकना है रणक्षेत्र मे मोलभाव कर लेते है इनके मूँह पर अलग मुखौटा इनका अपना अलग ही भेष लखनऊ मे मशहूर है भैया कम्बोट टोटी और अखिलेश ----- पंकज कुमार मिश्रा जौनपुरी


3 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.