• कर्म कसौटी

शुजात बुखारी हत्या: मदद करने वाला ही चौथा संदिग्ध, विडियो में बंदूक उठाकर भागता दिखा


श्रीनगर आतंकियों द्वारा गुरुवार शाम जम्मू-कश्मीर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या को लेकर पुलिस जांच में जुट गई है। बाइक सवार तीन युवकों को शक के घेरे में लेकर उनकी तलाश की जा रही है लेकिन इसके साथ ही एक चौंकाने वाली बात सामने आई है। एक अन्य संदिग्ध वह युवक भी है जो हमले के बाद की तस्वीरों और विडियो में शव को कार से निकालने में स्थानीय लोगों की मदद करता नजर आया था। पुलिस ने संदिग्ध की तस्वीर जारी करते हुए स्थानीय लोगों से उसकी पहचान करने में मदद करने को कहा है। बता दें, हमले में शुजात के सुरक्षाकर्मियों की भी मौत हो गई थी।

श्रीनगर में हाई अलर्ट जारी कर पत्रकार की हत्या करने वाले आतंकियों की तलाश में जुटी पुलिस ने तीन बाइक सवार युवकों को चिह्नित किया। इन संदिग्ध बाइक सवार हमलावरों की पहचान कर ली गई है और तीनों लश्कर के आतंकी हैं। इनकी पहचान अबू उसामा, नवीद जट और मेहराजुद्दीन बंगारू के रूप में हुई है और इनकी तलाश की जा रही है। इनके अलावा चौथा संदिग्ध सोशल मीडिया पर शेयर हो रही तस्वीरों और विडियो में दिख रहा है। पुलिस ने शुक्रवार को चौथे संदिग्ध की तस्वीर जारी की है।

हजारों की भीड़ ने दी शुजात बुखारी को अंतिम विदाई, 'राइजिंग कश्मीर' ने यूं दी श्रद्धांजलि

विडियो में चौथा संदिग्ध पहले तो शव निकालने में लोगों की मदद करता दिखता है। घटनास्थल से सबसे पहले सामने आईं कुछ तस्वीरों में वह नजर आ रहा है। हमले के बाद सामने आए एक विडियो में दिखता है कि शव गाड़ी से निकालते वक्त उसकी बंदूक नीचे गिर जाती और वह फुर्ती से बंदूक उठाकर सबसे नजर बचाकर भाग निकलता है। पुलिस का कहना है कि चौथे संदिग्ध की पहचान करने के लिए स्थानीय लोगों से मदद ली जा रही है और वह स्थानीय लोगों की मदद से आतंकियों की तलाश कर रही है।

पत्रकारिता पर फिर हमला बता दें, बुखारी और उनके दो अंगरक्षकों की गुरुवार शाम इफ्तार से थोड़ा पहले श्रीनगर के लाल चौक के निकट प्रेस एनक्लेव में राइजिंग कश्मीर के कार्यालय के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। राज्य की सीएम महबूबा मुफ्ती समेत गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी इसकी निंदा की है और जम्मू-कश्मीर के एक प्रमुख अखबार की हत्या ने पत्रकारों की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े किए हैं।

J&K: पत्रकार की हत्या, पुलिस ने जारी कीं संदिग्धों की तस्वीरें

नम आंखों से दी गई विदाई शुक्रवार को कश्मीर के वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी के अंतिम संस्कार में हजारों की भीड़ उमड़ी। बारामूला के उनके पैतृक गांव क्रेरा में बुखारी को सुपुर्द-ए-खाक किया गया। नम आंखों के साथ हजारों लोगों ने कश्मीर की इस आवाज को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इससे पहले अपने प्रधान संपादक की हत्या के बाद अंग्रेजी अखबार ‘राइजिंग कश्मीर’ ने शुक्रवार को अपना दैनिक संस्करण भी प्रकाशित किया।


3 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.