• प्रिया हटवाल

बेंगलुरु टेस्ट: धवन और विजय की सेंचुरी, भारत ने पहले दिन बनाए 6 विकेट पर 347 रन


बेंगलुरु ओपनर शिखर धवन (107) और मुरली विजय (105) की जोरदार शतकीय पारी की बदौलत भारतीय टीम ने अफगानिस्तान के खिलाफ ऐतिहासिक टेस्ट मुकाबले के पहले दिन का खेल खत्म होने तक 6 विकेट पर 347 रन बना लिए हैं। आर. अश्विन (7) और हार्दिक पंड्या (10) नाबाद लौटे। पहले दिन के 2 सत्र भारतीय बल्लेबाजों के नाम रहे। धवन और मुरली विजय ने अफगानी गेंदबाजों की जमकर परीक्षा ली। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 28.4 ओवर में 168 रन जोड़कर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे भारत को मजबूत शुरुआत दिलाई।

गब्बर से कम नहीं मुरली, बनाया स्पेशल रेकॉर्ड

दो सत्र में सिर्फ एक विकेट गिरा, जबकि तीसरे सत्र में 5 विकेट चटकाकर अफगानिस्तानी गेंदबाजों ने वापसी की। धवन ने मैच के शुरू में ही इतिहास रचा। वह किसी टेस्ट मैच के शुरुआती दिन लंच से पहले शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। विश्व स्तर पर उनसे पहले सर डॉन ब्रैडमैन, विक्टर ट्रंपर, चार्ली मार्कटनी, माजिद खान और डेविड वॉर्नर ही यह कारनामा कर पाए थे। (देखें स्कोरकार्ड- भारत बनाम अफगानिस्तान) अफगानिस्तान के कोच फिल सिमंस ने मैच से पहले कहा था कि उनके खिलाड़ियों को मैदान पर उतरने के बाद ही असलियत पता चलेगी और यहां ऐसा देखने को भी मिला। उसके युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को भारत के दोनों सलामी बल्लेबाजों ने कड़ा सबक सिखाया। टी 20 के स्टार राशिद खान को धवन ने शुरू से निशाने रखा। उन्होंने इस लेग स्पिनर पर 3 चौके लगाकर अपना पचासा पूरा किया। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने राशिद पर ही कवर ड्राइव से चौका जड़कर अपना 7वां टेस्ट शतक पूरा किया।

अफगान टेस्ट: वीरू छूटे पीछे, धवन का बड़ा रेकॉर्ड

दूसरे छोर पर विजय ने अपनी रक्षात्मक तकनीक से भी अपना पहला टेस्ट खेल रहे अफगानिस्तान को हताश किया। धवन ने दूसरे सत्र के शुरू में आउट होने से पहले आईपीएल में खेलने वाले अफगानिस्तान के तीनों खिलाड़ियों राशिद, मोहम्मद नबी और मुजीब उर रहमान पर छक्के जड़े। धवन ने कुल मिलाकर 19 चौके और 3 छक्के लगाए। धवन की पारी का अंत आखिर में यामिन अहमदजई ने किया। उनकी मूव लेती गेंद धवन के बल्ले का किनारा लेकर कप्तान अशगर स्तानिकजई के पास गई, जो उनके हाथों से छिटक गई लेकिन मोहम्मद नबी ने उसे कैच में बदल दिया। तीसरे सत्र में गिरे 5 विकेट पहले दो सत्र में 45 ओवरों में 37 चौके और चार छक्के लगे। इससे शिखर और मुरली विजय की तूफानी बैटिंग का अंदाजा लगाया जा सकता है। हालांकि, तीसरा सत्र भारत के लिए चौंकाने वाला रहा। इस सत्र में भारत के कुल 5 विकेट गिरे। टेस्ट करियर की 12वीं सेंचुरी लगाने वाले मुरली विजय के रूप में भारत का दूसरा विकेट गिरा। इसके बाद लोकेश राहुल (45), कप्तान अजिंक्य रहाणे (10), चेतेश्वर पुजारा (35) और दिनेश कार्तिक (4) को अफगान टीम आसानी से आउट करने में सफल रही।


3 व्यूज

                                           KarmKasauti

                            Kanpur Uttar Pradesh

          Email: karmkasauti@gmail.com

   Copyright 2018. All Rights Reserved.